बालों को कलर करने से इन्हें नुक़सान पहुंचता है और कलर किए हुए बालों पर तेल लगाने से सारा कलर बहकर निकलने लगता है... क्या आप भी हेयर कलरिंग से जुड़े इन मिथकों पर भरोसा करती हैं? और तब क्या जब हम कहें कि इन बातों में ज़रा भी सच्चाई नहीं है?

हो सकता है कि आप अपने सफ़ेद बालों को कवर करना चाहती हों या फिर अपने बालों को नित नए रंगों में रंग कर उनके साथ प्रयोग करना चाहती हों, पर हेयर कलरिंग के बारे में फैले मिथकों के चलते ऐसा करने से बच रही हों. इसलिए हमें यह बहुत ज़रूरी लगा कि हम आपको हेयर कलर के इस्तेमाल से जुड़ी भ्रांतियों और उनकी सच्चाई से रूबरू करवाएं. आगे पढ़िए और जानिए कि इन मिथकों की सच्चाई आख़िर है क्या?

stop believing these 5 hair colouring myths

मिथक 1: कलरिंग से आपके बालों की मोटाई कम होती है

सच्चाई: इस मिथक के बिल्कुल उलट सच्चाई यह है कि हेयर कलर दरअस्ल, आपके हर एक बाल को मोटा और भरा हुआ बनाते हैं. इनमें इस्तेमाल किए जाने वाले लाइटनिंग एजेंट्स आपके हर बाल के क्यूटिकल को फुला देते हैं, जिससे इनमें हेयर कलर आसानी से चिपक सके.

stop believing these 5 hair colouring myths

मिथक 2: तेल लगाने से आपके बालों में लगा हुआ कलर हल्का पड़ जाता है

सच्चाई: आपका तेल लगाने का नियम सप्ताह में जितनी बार का भी हो, उसे बिल्कुल भी कम करने की ज़रूरत नहीं है. तेल लगाने से कलर किए हुए बालों को कोई नुक़सान नहीं पहुंचता, बल्कि इससे आपके बालों में चमक आती है और आपका हेयर कलर हाइलाइट होता है. इस तरह आपके कलर किए हुए बाल सेहतभरी चमक से और भी ख़ूबसूरत नज़र आएंगे.

stop believing these 5 hair colouring myths

मिथक 3: कलर करने से पहले अपने बालों को धो लें

सच्चाई: कलर ऐसे बालों पर लगाएं, जिन्हें आपने 24-48 घंटे पहले धोया हो. इसकी वजह यह है कि हेयर कलर में केमिकल्स होते हैं. यदि आपने बालों को एक-दो दिन पहले धोया होगा तो इतने समय में स्कैल्प और बालों पर आया प्राकृतिक तेल आपके बालों को केमिकल्स के कठोर असर से बचाने का काम करेगा. अत: बाल धोने के तुरंत बाद बालों को कलर करना बुद्धिमानी नहीं है.

stop believing these 5 hair colouring myths

मिथक 4: बालों को कलर करने के बाद सामान्य शैम्पू का इस्तेमाल करना ठीक है

सच्चाई: अपने बालों पर लगे रंग को जल्दी हल्का होने से बचाने, बालों में चमक और नमी को बनाए रखने के लिए अच्छा होगा कि आप हेयर कलर लगाने के बाद कलर्ड-ट्रीटेड बालों के लिए बनाए गए ख़ास शैम्पू का ही इस्तेमाल करें. लंबे समय में इससे आपके पैसों की बचत ही होगी.

stop believing these 5 hair colouring myths

मिथक 5: एक बार बालों में कलर लगाने के बाद आपको हमेशा उन्हें कलर करते रहना होगा

सच्चाई: यह बिल्कुल भी सही नहीं है! अपने बालों पर दोबारा कलर का इस्तेमाल करना है या नहीं, ये पूरी तरह से आपकी इच्छा पर निर्भर करता है. बालों को कलर करने का यह अर्थ क़तई नहीं है कि अब आपके बाल कभी-भी अपने स्वाभाविक रंग में नहीं आएंगे. यदि आप अच्छी गुणवत्ता वाले रंग का इस्तेमाल कर रही हैं तो आप अपने बालों पर अपने मन मुताबिक़ रंगों के साथ प्रयोग कर सकती हैं.