क्या कभी कंघी करते वक़्त आपको अपने स्कैल्प पर छोटा-सा दाना महसूस हुआ है, जिसमें कंघी के स्पर्श से बहुत दर्द भी हुआ हो? यही स्कैल्प ऐक्ने है. जहां कुछ लोगों को इस तरह स्कैल्प पर कभी-कभार एक या दो मुहांसे ही होते हैं, वहीं कुछ लोगों की पूरी स्कैल्प हमेशा ही ऐसे मुहांसों से भरी होती है. अक्सर जिन लोगों के चेहरे पर मुहांसे होते हैं, उनके साथ ऐसा होना आम बात है.

आपको ये जान के अचरज हो सकता है कि स्कैल्प ऐक्ने का कारण केवल हॉर्मोन्स का असंतुलन ही नहीं होता. स्कैल्प पर ये दर्दभरे दाने होने के लिए अलग वजहें ज़िम्मेदार हैं और यहां हम ऐसे ही चार कारणों का ज़िक्र कर रहे हैं.

 

पीसीओएस

पीसीओएस

हॉर्मोन्स के असंतुलित होने से त्वचा और बालों से संबंधित कई समस्याएं होती हैं. पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस) की वजह से आपके शरीर में ऐन्ड्रोजन का स्तर बढ़ सकता है, जिससे स्कैल्प पर सीबम का उत्पादन बढ़ सकता है. गर्भनिरोधक गोलियां यानी ओरल कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स भी ऐन्ड्रोजेनिक होती हैं और इनकी वजह से भी स्कैल्प पर ज़्यादा तेल का उत्पादन हो सकता है.

आपकी त्वचा की ही तरह, जब आपके स्कैल्प पर भी अतिरिक्त ऑइल आता है यहां के रोमछिद्र यानी पोर्स बंद हो जाते हैं, जिसकी वजह से दर्दभरे पिम्पल्स हो सकते हैं. ऐसे में डॉक्टर या ट्राइकोलॉजिस्ट की मदद लें, ताकि इस समस्या से निजात मिले और यह भविष्य में भी आपको न हो.  

 

गंदा स्कैल्प

गंदा स्कैल्प

यदि स्कैल्प बहुत तैलीय हो जाता हो और इसे अच्छी तरह साफ़ नहीं किया जाए तो भी स्कैल्प पर ब्रेकआउट्स हो जाते हैं. ऐसी कैप, हैट या स्कार्फ़ का इस्तेमाल, जो बहुत समय से धुला न हो, आपके स्कैल्प पर बैक्टीरियाज़ पहुंचा सकता है और इससे भी मुहांसे हो सकते हैं. यदि आपको स्कैल्प पर मुहांसों की समस्या है तो आपको अपने तकिए का कवर भी जल्दी-जल्दी बदलते रहना चाहिए. तकिए का खोल भी कीटाणुओं के पनपने की जगह होता है. यदि आपकी स्कैल्प ऑइली है तो बालों को धोने और स्कैल्प को साफ़ रखने के लिए डीप क्लेंज़िंग शैम्पू का इस्तेमाल करें.

 

फ़लिक्यूलाइटिस

फ़लिक्यूलाइटिस

यह त्वचा की एक ऐसी अवस्था है, जो पिम्पल की तरह नज़र आती है, लेकिन इसके दाने छोटे, खुजली पैदा करने वाले होते हैं और बड़े गुच्छों में दिखाई देते हैं. फ़लिक्यूलाइटिस अमूमन बैक्टीरियल इन्फ़ेक्शन, फंगल इन्फ़ेक्शन या ऐक्ने की वजह से होता है. अत: बहुत ज़रूरी है कि आप अपने बालों को साफ़ रखें और ऐसे प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करें, जो स्कैल्प को अच्छी तरह साफ़ करते हों. आप स्कैल्प पर फ़ंगस को आने से रोकने के लिए स्कैल्प को एक्स्फ़ॉलिएट भी कर सकती हैं.

 

प्रोडक्ट बिल्डअप

प्रोडक्ट बिल्डअप

 जहां नियमित रूप से बालों को धोना ज़रूरी है, वहीं यह सुनिश्चित करना भी ज़रूरी है कि शैम्पू और कंडिशनर के इस्तेमाल के बाद ये प्रोडक्ट्स आपके स्कैल्प और बालों से पूरी तरह निकल गए हों. इन हेयर प्रोडक्ट्स के अवशेष यदि स्कैल्प और बालों पर रह गए तो वे निश्चित रूप से मुहांसों का कारण बन सकते हैं. तो क्या इसका ये मतलब है कि अब आप ड्राइ शैम्पू का इस्तेमाल ही नहीं कर सकतीं? बिल्कुल नहीं. आप इसका इस्तेमाल कर सकती हैं. बस इसे अगले दिन अच्छी तरह धो कर देखें कि कहीं ये आपके स्कैल्प पर मुहांसे पैदा तो नहीं कर रहा है.