रूखे, क्षतिग्रस्त और निस्तेज बाल-ये वो समस्या है, जिससे अधिकतर महिलाएं दो-चार होती हैं. बालों के इस तरह क्षतिग्रस्त होने का कारण हैं: प्रदूषण, तनाव, सूर्य की किरणों से पहुंचने वाला नुक़सान और हेयर स्टाइलिंग वगैरह. बाल क्षतिग्रस्त हो जाएं तो हमें सबसे ख़राब तब लगता है, जब हमें बड़े जतन से बढ़ाए गए इन बालों को कटवाने के लिए सलून का रुख़ करना पड़े.

 यदि आप भी क्षतिग्रस्त बालों से परेशान हो कर उन्हें कटवाने के लिए सलून का रुख़ करने का मन बना चुकी हैं तो रुक जाइए, क्योंकि यह आलेख आपके लिए ही है. यदि आप नीचे दी गई सलाहों को अमल में लाएंगी तो आपके बालों में दोबारा सेहतभरी चमक लहराएगी. आइए, इन टिप्स के बारे में जानें...

सल्फ़ेट मुक्त शैम्पू और कंडिशनर का इस्तेमाल करें
 

सल्फ़ेट मुक्त शैम्पू और कंडिशनर का इस्तेमाल करें

सल्फ़ेट और पैराबीन जैसे रसायनों यानी केमिकल्स से मुक्त शैम्पू आपके बालों पर सौम्य रहेंगे और बालों को क्षतिग्रस्त नहीं करेंगे. साथ ही, ऐसा शैम्पू चुनें, जिसमें प्राकृतिक तेल और जड़ी-बूटियां हों, जो आपके बालों की मरम्मत करने में मदद करें.  याद रखें कि बालों को ज़रूरत से ज़्यादा धोने से आपके बालों में मौजूद स्वाभिवक तेल, जो बालों की सुरक्षा भी करता है, हट जाता है, जिससे बाल रूखे हो जाते हैं और टूटने लगते हैं. यदि दो बार के शैम्पू के बीच आपके बालों में शैम्पू की ज़रूरत महसूस होती है तो ड्राइ शैम्पू का इस्तेमाल करें.

डीप कंडिशनिंग ट्रीटमेंट लें
 

डीप कंडिशनिंग ट्रीटमेंट लें

अपने बालों की डीप कंडिशननिंग करने का सीधा मतलब है- डीप कंडिशनर को लंबे समय तक बालों पर लगा रहने देना, ताकि यह आपके बालों के भीतर तक जा कर उनको पहुंचे नुक़सान की मरम्मत कर सके. डीप कंडिशनर क्षतिग्रस्त बालों का लचीलापन बढ़ाता है और साथ ही उनकी चमक और आभा को भी बढ़ाता है.

हेयर मास्क का इस्तेमाल करें
 

हेयर मास्क का इस्तेमाल करें

डैमेज्ड बालों की गुणवत्ता में सुधार लाने का सबसे अच्छा तरीक़ा है हेयर मास्क लगाना. ऐसे मास्क्स का इस्तेमाल करें, जो क्षतिग्रस्त बालों में सुधार करने किे लिए जाने जाते हों, क्योंकि ये मास्क आपके मनचाहे लक्ष्य को पाने का काम करेंगे. सप्ताह में दो बार ऐसा हेयर मास्क अप्लाइ करें और बालों पर प्लास्टिक शावर कैप लगा लें. इसे एक घंटे तक बालों में लगा रहने दें. इससे मास्क के प्रोडक्ट्स आपके बालों में भीतर तक समाहित हो सकेंगे. फिर बालों को धो लें.

हीट स्टाइलिंग की फ्रीक्वेंसी कम करें
 

हीट स्टाइलिंग की फ्रीक्वेंसी कम करें

यदि आप अपने रूखे और क्षतिग्रस्त बालों को ठीक करने के बारे में सोच रही हैं तो अपना हेयरस्टाइल सादा रखें और हीट स्टालिंग कम से कम करें. ऐसा हेयरस्टाइल चुनें जिसे बनाने में बहुत सारे प्रोडक्ट्स और हेयर स्प्रेज़ की ज़रूरत न पड़ती हो. साथ ही, यदि कभी आपको लगता है कि आपको हीट स्टाइलिंग करनी ही है तो पहले अपने बालों पर हीट प्रोटेक्टैंट स्प्रे या डैमज कंट्रोल हेयर सीरम लगाएं, उसके बाद ही हीट स्टाइलिंग करें, ताकि आपके बाल और अधिक क्षतिग्रस्त न होने पाएं.