डैंड्रफ बालों से जुड़ी ऐसी समस्या है, न तो लिंगभेद में भरोसा करती है और ना ही उम्र के किसी भेद में. डैंड्रफ को इस बात से कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता कि आप पुरुष हैं या महिला और आपकी उम्र कितनी है. ये बालों की एक आम समस्या है, जिससे दुनिया के आधे वयस्क परेशान हैं. समय के साथ-साथ यह हमारे बालों की स्थिति को बद से बदतर बनाती जाती है है. ये एक ऐसी समस्या है, जो अपने आप ठीक नहीं होती, बल्कि और ज़्यादा बढ़ती जाती है.

डैंड्रफ  इस बात का स्पष्ट संकेत है कि आपके स्कैल्प को पर्याप्त मात्रा में पोषण नहीं मिल रहा है. हो सकता है कि आप पर्याप्त मात्रा में अच्छा हेयर ऑइल लगा रही हों, पर डैंड्रफ़ इस बात का संकेत है कि ये ऑइल भी आपके स्कैल्प का पूरी तरह ध्यान नहीं रख पा रहा है. क्या आपको पता है कि डैड्रफ़ बहुत ज़्यादा बाल धोने से या फिर बहुत कम बाल धोने की वजह से भी हो सकता है? और तो और यह आपके द्वारा इस्तेमाल किए जा रहे शैम्पू की वजह से भी हो सकता है. यदि बहुत सारे कॉस्मेटिक ब्यूटी प्रोडक्ट्स भी इसे हटाने में आपकी मदद नहीं कर पा रहे हैं तो समय आ गया है कि आप डैंड्रफ दूर करने के उपाय के बारे में जानें.

पर उससे पहले ये बताइए कि क्या आप जानती हैं कि डैंड्रफ़, मैलासेज़िआ नामक एक फ़ंगस के कारण होता है? यह फंगस स्कैल्प पर मौजूद सीबम पर पलता है और इसे ऐसे फ़ैट ऐसिड्स में बदल देता है, जो संवेदनशील यानी सेंसिटिव स्कैल्प में जलन पैदा करता है. यही स्कैल्प में रूखेपन और खुजली का कारण भी है.  इसी की वजह से स्कैल्प पर त्वचा की मृत कोशिकाएं यानी डेड स्किन सेल्स इकट्ठा होती जाती हैं, जो पपड़ी यानी फ़्लेक्स के रूप में नज़र आती हैं, जो आपके बालों से कभी-भी और कहीं भी झांकने लगते हैं. गहरे और काले रंग के कपड़ों पर इसके फ़्लेक्स बहुत ही ख़राब नज़र आते हैं.

पर यदि आपको डैंड्रफ की समस्या है तो आप चिंता मत कीजिए, क्योंकि हम आपको ऐसे डैंड्रफ दूर करने के उपाय बता रहे हैं जो आसान भी हैं और इसके लिए आपको केवल अपने किचन का रुख़ करना है.

टी ट्री ऑइल का करें इस्तेमाल
 

टी ट्री ऑइल का करें इस्तेमाल

टी ट्री ऑइल में शक्तिशाली ऐंटीमाइक्रोबिअल और ऐंटी-इन्फ़्लैमटॉरी गुण होते हैं, जो डैंड्रफ़ का कारगर इलाज करते हैं. पुराने समय में टी ट्री का इस्तेमाल मुहांसो और सोरायसिस के इलाज में बहुतायत से किया जाता था, क्योंकि इसमें बहुत सारे चिकित्सकीय गुण होते हैं. आपको बता दें कि सामान्य शैम्पू की तुलना में टी ट्री ऑइल वाले शैम्पू बालों के लिए ज़्यादा अच्छे होते हैं. अत: डैंड्रफ दूर करने के उपाय में से यह उपाय अपना कर देखें. इसके लिए अपने शैम्पू में कुछ बूंद टी ट्री ऑइल डाल कर अच्छे से मिलाएं. अब इस मिश्रण को बालों पर लगाएं. पांच मिनट तक लगा रहने दें और फिर ठंडे पानी से बाल धो लें.

दही आएगा काम
 

दही आएगा काम

डैंड्रफ़ हटाने के लिए पूरे स्कैल्प पर दही लगाएं. जब दही अच्छी तरह लग जाए तो आधे घंटे तक इसे लगा रहने दें. जब दही स्कैल्प पर सूख जाए तो गुनगुने पानी से बालों को धो लें. इससे डैंड्रफ में कमी आएगी, और दही में मौजूद पोषक तत्वों के चलते आपके बालों को टेक्स्चर चमकीला भी हो जाएगा. डैंड्रफ दूर करने के उपाय में यह बहुत कारगर और आसान सा उपाय है.

ऐप्पल साइडर विनेगर असरदार है
 

ऐप्पल साइडर विनेगर असरदार है

जब डैंड्रफ दूर करने के उपाय की बात हो तो आप ऐप्पल साइडर विनेगर पर पूरी तरह भरोसा कर सकती हैं. यह ऐंटीफ़ंगल और ऐंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है. यह स्कैल्प की सेहत को सुधारने के लिए बेहतरीन है. यह विनेगर डैंड्रफ पैदा करने वाले फ़ंगस को हटता है और रूसी की समस्या को प्रभावी रूप से कम करता है. यही नहीं, ऐप्पल साइडर विनेगर के ऐंटी-इन्फ़्लैमटॉरी गुण स्कैल्प पर होने वाली जलन और सूजन से छुटकारा दिलाते हैं, जिससे डैंड्रफ़ की वजह से स्कैल्प पर होने वाली खुजली में तुरंत ही राहत मिलती है. इस डैंड्रफ दूर करने के उपाय को अपनाने के लिए एक बोल में ऐप्पल साइड विनेगर और पानी की बराबर मात्रा मिलाएं. अपने बालों को शैम्पू से धोने के बाद इस मिश्रण को स्कैल्प पर डालें और पूरे बालों में लगाएं. इसे 15 मिनट तक लगा रहने दें और फिर बालों को पानी से धो लें. आपको डैंड्रफ की समस्या से राहत मिलेगी.

दही और नींबू का कारगर मेल
 

दही और नींबू का कारगर मेल

यह तो हम सभी जानते हैं कि नींबू में सिट्रिक ऐसिड होता है, जबकि दही में लैक्टिक ऐसिड. जब दही और नींबू का मिश्रण स्कैल्प पर लगाया जाता है तो इनके अम्लीय यानी ऐसिडिक गुण मिलकर डैंड्रफ़ को काफ़ी हद तक कम करने में मदद करते हैं. इस डैंड्रफ दूर करने के उपाय को अपनाने के लिए एक बोल में दही-नींबू के रस का मिश्रण बनाएं और स्कैल्प पर अप्लाइ करें. इसे लगभग आधे घंटे या तब तक लगा रहने दें, जब तक कि मिश्रण सूख न जाए. अब गुनगुने पानी से सिर धो लें.

ऑलिव ऑइल के गुण देंगे राहत
 

ऑलिव ऑइल के गुण देंगे राहत

ऑलिव ऑइल में नमी पहुंचाने वाले गुण होते हैं, जो हमारे स्कैल्प से डैंड्रफ़ को हटाने में कारगर है. ऑलिव ऑइल हमारे स्कैल्प पर मौजूद रूखे हिस्सों यानी ड्राइ पैचेस को नम बनाता है, जिससे स्कैल्प पर पपड़ी नहीं बनती. वहीं इससे मालिश करने पर कड़े हो चुके डैंड्रफ़ के फ़्लेक्स नरम हो कर स्कैल्प से निकल जाते हैं और स्कैल्प सेहतमंद व साफ़-सुथरा हो जाता है. इस डैंड्रफ दूर करने के उपाय को अपनाने के लिए आपको बस अपने स्कैल्प पर ऑलिव ऑइल लगाना है. जब तेल लग जाए तो सौम्यता से स्कैल्प की मालिश करें. मालिश करने के बाद कुछ समय तक तक तेल बालों में लगा रहने दें. फिर गुनगुने पानी से बाल धो लें.

मुल्तानी मिट्टी दिखाएगी कमाल
 

मुल्तानी मिट्टी दिखाएगी कमाल

तो आपके अब तक लगता था कि मुल्तानी मिट्टी केवल त्वचा के लिए ही  फ़ायदेमंद है? पर हम आपको बता रहे हैं कि यह बालों से डैंड्रफ़ दूर करने के भी काम आती है! मुल्तानी मिट्टी स्कैल्प पर मौजूद तेल, चिकनाई और गंदगी को अवशोषित कर लेती है, जो डैंड्रफ़ के बढ़ने का असली कारण है. यह डैंड्रफ दूर करने के उपायों में से वह उपाय है, जो स्कैल्प को साफ़-सुथरा बनाए रखती है. इसके इस्तेमाल के लिए एक बोल में मुल्तानी मिट्टी लें. इसमें पर्याप्त मात्रा में पानी मिला कर पेस्ट बना लें. अब इसमें थोड़ा सा नींबू का रस डालें और इस मिश्रण को स्कैल्प पर अच्छी तरह लगा लें. इसे लगभग 20 मिनट तक स्कैल्प पर लगा रहने दें. अब बालों को पानी से धो लें. आपको बता दें कि डैंड्रफ दूर करने के उपाय की तरह तो नहीं, लेकिन हमारे देश में पुराने समय में जब शैम्पू नहीं हुआ करता था, लोग मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल बाल धोने के लिए किया करते थे.

मेथी दाने दूर भगाएंगे डैंड्रफ
 

मेथी दाने दूर भगाएंगे डैंड्रफ

डैंड्रफ दूर करने के उपाय में भारतीय रसोई में मौजूद मेथी के दाने भी बहुत कारगर हैं. ऐंटीबैक्टीरियल और ऐंटफ़ंगल गुणों से भरपूर मेथी दानों में प्रोटीन, विटामिन C, आयरन, पोटैशियम, निकोटिनिक ऐसिड और लेसिथिन भी मौजूद होता है. इसके इस्तेमाल से बालों को बहुत फ़ायदा पहुंचता है. इस डैंड्रफ दूर करने के उपाय को अपनाने के लिए रात के समय थोड़े मेथी दाने को एक बोल में डालकर भिगो दें. इन्हें रातभर पानी में भीगने दें. सुबह पानी निथार कर बीजों को अच्छी तरह पीस कर पेस्ट बना लें. इस पेस्ट को अपने स्कैल्प व बालों पर लगाएं. इसे आधे घंटे तक लगा रहने दें और फिर बालों को सौम्य शैम्पू व कंडिशनर की सहायता से धो लें.