सेलेब्रिटी मेकअप आर्टिस्ट अनु कौशिक से जानें कैसे करें पर्सनल और प्रोफेशनल मेकअप को सैनेटाइज़

Written by Suman SharmaSep 16, 2023
सेलेब्रिटी मेकअप आर्टिस्ट अनु कौशिक से जानें कैसे करें पर्सनल और प्रोफेशनल मेकअप को सैनेटाइज़

कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया को बुरी तरह प्रभावित किया है। इस ग्लोबल महामारी के कारण लोगों के लाइफस्टाइल, उनके रहन-सहन और तौर-तरीकों में कई अनोखे बदलाव कर दिए हैं। अब भी इतने महीने बीत जाने के बावजूद, इस महामारी का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। और यहीं वजह है कि अब भी जिंदगी पूरी तरह सामान्य नहीं हुई है। अब भी कोरोना संक्रमित की संख्या में इज़ाफा हो रहा है और इस वजह से लोग कम से कम बाहर जा रहे हैं। ऐसे में उनकी यहीं कोशिश है कि वह घर में रह कर किस तरह अपना ख्याल रखें। अपने हाथों को 20 सेकेंड तक धोने के साथ-साथ, मास्क पहनना और हाथों को सैनेटाइज़ करना, ये कम से कम तीन चीज़ें हैं, जो हम खुद को इस कोविड वायरस से बचाने के लिए कर सकते हैं। हम आजकल हर चीज़ का इस्तेमाल हाइजीन के साथ कर रहे हैं, लेकिन फिर भी मेकअप प्रोडक्ट्स को लेकर, हमें अब भी इस बात का ख़याल नहीं होता है कि उसे भी प्रॉपर तरीके से सैनेटाइज़ करना जरूरी है। चूंकि कई बार हमारे दिमाग में बात होती है कि सैनेटाइज़ करने से प्रोडक्ट्स खराब हो जायेंगे। लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है, इसलिए जरूरी है कि इसके बारे में पूरी जानकारी रखी जाए। इसी विषय को लेकर हमने मशहूर सेलेब्रिटी मेकअप आर्टिस्ट अनु कौशिक से बातचीत की है। आइये जानें, वह क्या राय देती हैं।

अनु कौशिक के अनुसार (@kaushikanu) सिर्फ महामारी को ही ध्यान में रखते हुए नहीं, बल्कि हाइजीन और सैनिटाइज़ेशन हमेशा ही हमारे लिए सबसे अहम प्राथमिकता होनी चाहिए। चूंकि अनहाइजेनिक यानी बिना साफ़-सफाई के मेकअप करना हमेशा ही हमारी त्वचा को नुकसान पहुंचाता है और जिससे हमेशा ही इंफेक्शन (संक्रमण ) का डर बना रहता है। इसलिए यह जरूरी है कि जब भी आप आम तौर पर भी मेकअप करें तो इस बात का ध्यान रखें। इसलिए , यह जरूरी नहीं कि सिर्फ़ प्रोफेशनल मेकअप में ही इस बात का ध्यान रखें, अपने पर्सनल मेकअप में भी साफ़-सफ़ाई का विशेष ध्यान रखना ही चाहिए। अनु आगे कहती हैं कि हमारे मेकअप टूल्स की नियमित सफाई और मेकअप प्रोडक्ट्स का नियमित रूप से सैनेटाइज़ किया जाना बेहद ज़रूरी है। इससे न केवल आपकी त्वचा की सुरक्षा होगी, बल्कि इससे जो आपके महंगे ब्यूटी प्रोडक्ट्स होते हैं, उनमें बैक्टीरिया या किसी भी तरह के फंगस लगने की समस्या नहीं होगी।

sanitising makeup guide

क्या वाकई आपने मेकअप प्रोडक्ट्स पर भी गंदगी जमती है या फिर सिर्फ ये मिथ है

यह बेहद ज़रूरी है कि आप अपने मेकअप हाइजीन की अनदेखी न करें, किसी भी तरह की लापरवाही न करें। आपके मेकअप को किसी भी तरह के सैनेटाइज़ की जरूरत नहीं, इस ग़लतफहमी को दूर करते हुए अनु कहती हैं " एक बार अगर आपके मेकअप प्रोडक्ट्स में संक्रमित हुआ, फिर लगातार उसमें बैक्टीरिया बढ़ने की ही संभावना होती जाती है। और फिर इसके बाद जब वह प्रोडक्ट्स आप अपनी त्वचा पर इस्तेमाल करती हैं, तो इससे आपको एलर्जी और रैशेस होने की पूरी संभावना बढ़ जाती है ".

sanitising makeup guide

मेकअप स्टेपल्स को सही तरीके से सैनेटाइज़ करने के तरीके

अनु सलाह देती हैं कि यह बेहद जरूरी है कि हर बार इस्तेमाल के बाद एक मेकअप सैनेटाइजर स्प्रे या फिर 70 प्रतिशत आईपीए ( Isopropyl alcohal ) अल्कोहल वाले सैनेटाइजर स्प्रे भी सारे पाउडर और क्रीम प्रोडक्ट पर स्प्रे किया जाए तो सही होता है। इसके लिए यह ध्यान रखना होगा कि सारे प्रोडक्ट्स से लगभग 6 से 10 इंच की दूरी बना कर ही स्प्रे किया जाए और फिर स्प्रे के सूखने के बाद ही प्रोडक्ट्स इस्तेमाल किया जाये। अनु बताती हैं कि डिसइंफेक्शन की इस प्रक्रिया में कोंटेक्ट टाइम अहम हो जाता है। वह आगे बताती हैं कि "जिस प्रोडक्ट्स में अल्कोहल(99 प्रतिशत ) का प्रतिशत अधिक होता है, वे प्रोडक्ट्स सहायक नहीं होते हैं, क्योंकि वे स्प्रे करने के साथ ही जल्दी उड़ जाते जाते हैं, और उनका प्रोडक्ट के साथ उचित कॉन्टेक्ट टाइम नहीं होता है, इसलिए 70 प्रतिशत अल्कोहल वाले सैनेटाइज़र ही सबसे सही होते हैं।

क्रीम प्रोडक्ट्स और पैलेट्स को कैसे करें सैनेटाइज़

जब बात आती है पैलेट्स की तो अनु सलाह देती हैं कि अपने ऐसे प्रोडक्ट्स को समय -समय पर, हर बार बहुत ही हल्के हाथों से स्क्रब कर दिया करें। वहीं जब बात क्रीम बेस्ड प्रोडक्ट्स की आती है, तो वह कहती हैं कि इसे साफ़ करने के लिए कभी अपने हाथों का इस्तेमाल न करें। चूंकि क्रीम बेस्ड प्रोडक्ट्स में बहुत ही जल्दी मॉइस्चर लग जाने का डर रहता है, साथ ही उनमें गंदगी जमने और फंगस लगने की संभावना बढ़ जाती है, इसलिए ऐसे में इस तरह के क्रीम प्रोडक्ट्स के टॉप लेयर (ऊपरी परत )को हटाते रहना और इसके बाद ही इसका उपयोग करना चाहिए।

sanitising makeup guide

मेकअप ब्रश को कैसे करें सैनेटाइज़

अनु कहती हैं कि ऐसे कई ब्रांड्स हैं, जिन्होंने आजकल मेकअप ब्रशेस के लिए क्लींज़र्स उपलब्ध करा दिए हैं, जिनसे आसानी से ब्रश के फ़ौरन इस्तेमाल करने के बाद उसको साफ़ किया जा सकता है। फिर ब्रशेस को धोने के लिए किसी माइल्ड शैंपू के घोल का इस्तेमाल किया जा सकता है। सारे ब्रश को इस घोल में डाल कर ,अच्छी तरह से सुखाने के बाद दोबारा से इस्तेमाल में लाया जा सकता है। मेकअप स्पंज को भी हर बार अच्छी तरह से धो कर, साफ़ कर, सुखाने के बाद ही इसका इस्तेमाल किया जाना चाहिए। और स्पंज का इस्तेमाल हमेशा सिर्फ खुद करें, उसे किसी के साथ भी शेयर न करें।

ट्रिकी मेकअप एसेंशियल्स को किस तरह करें सैनेटाइज़

अनु के अनुसार, होंठों और आंखों के लिए इस्तेमाल की जाने वाली पेंसिल्स और क्रेयॉन्स को साफ़ करना सबसे कठिन होता है, ऐसे में उन्हें हर बार इस्तेमाल करने के बाद शार्प करते रहना जरूरी है, और यह जरूरी है कि जो शार्पनर है , उसे भी हर बार आईपीए से डिसइंफेक्टेड किया जाए. और एक बात का ख़ास ख़याल रखना जरूरी है कि स्पंज और ये पेंसिल्स सिर्फ आप खुद इस्तेमाल करें, क्योंकि ये चीज़ें कभी भी 100 प्रतिशत डिसइंफेक्ट नहीं की जा सकती है।

sanitising makeup guide

मेकअप आर्टिस्ट्स के लिए अनु कौशिक शेयर कर रही हैं विशेष मेकअप सैनेटाइज़ेशन टिप्स

अनु कौशिक आपके पर्सनल मेकअप के सैनेटाइज़ेशन टिप्स के अलावा मेकअप आर्टिस्ट के लिए भी कुछ महत्वपूर्ण टिप्स दे रही हैं:

  • प्रोफेशनल मेकअप आर्टिस्ट्स के लिए जरूरी है कि उनके पास वन टाइम किट, जिसमें डिस्पोज़ेबल स्पूलीस, वैंड्स, स्पोंजेज और पफ्स ज़रूर हों, साथ ही साथ उसमें मेकअप सैनेटाइज़र , ब्रश क्लींज़र, हैंड सैनेटाइज़र और डिसइंफेक्टेंट वाइप्स ज़रूर हों।
  • उनका मेकअप किट हमेशा ही साफ़ और डिसइंफेक्टेड होना चाहिए, जितनी बार भी वह इसे पैक करें, इसके अलावा, उनका जो मेकअप सूटकेस है, मेकअप के पाउच, कंटेनर्स, बॉटल्स और सब कुछ बार-बार डिसइंफेक्टेड किया जाना चाहिए।
  • टेबल और चेयर हमेशा सैनेटाइज़ किया जाना चाहिए, साथ ही डिस्पोज़ेबल टॉवल को भी इस्तेमाल करने से पहले साफ़ किया जाना चाहिए।
  • मेकअप करने से पहले, डिस्पोज़ेबल मास्क और एप्रेन पहनना बिल्कुल न भूलें। अपने हाथों को अच्छी तरह से साफ करें और मेकअप शुरू करने से लेकर बीच-बीच में भी हैंड सैनेटाइज़र लगाते रहें।
  • एक स्टेनलेस स्टील के ट्रे और स्पैचुला (जिसमें रंग निकाल कर रखते हैं )का इस्तेमाल करें और उसे सैनेटाइज़ करते रहें, जितनी बार भी इसका इस्तेमाल करें, सैनेटाइज करते रहें।
  • ट्यूब्स और कंटेनर से, किसी भी क्रीम प्रोडक्ट को निकालने के लिए हमेशा एक स्पैटुला का इस्तेमाल करें।
  • फ़ाउंडेशन और कंसीलर के लिए कम से कम मेकअप ब्रश का इस्तेमाल करें। इसके लिए ऐप्लिकेटर्स और बफिंग ब्रश का इस्तेमाल करें। इन्हें अलग कंटेनर में रखें और हर बार इस्तेमाल के बाद उसे साफ़ कर लें और डिसइंफेक्ट कर लें। पाउडर एप्लिकेशन के लिए एक फ्रेश डिस्पज़ल स्पॉन्ज का इस्तेमाल करें।
  • मस्कारा लगाने के लिए हर बार एक डिस्पोज़ेबल मस्कारा ब्रश का इस्तेमाल करें। प्री -एग्जिस्टिंग एप्लीकेटर का इस्तेमाल न करें, डबल डीप का भी इस्तेमाल न करें। ऐसा ही लिक्विड लिपस्टिक्स और कंसीलर्स के साथ भी करें।
  • आई लाइनर पॉट्स का इस्तेमाल करें और फेल्ट टिप लिक्विड लाइनर्स को इस्तेमाल न ही करें : डिस्पोज़ेबल ब्रशेस और डबल डीप का भी इस्तेमाल न करें।
  • एयर ब्रश मेकअप का उपयोग सुरक्षित और कॉन्टैक्टलेस बेस ( बिना संपर्क) के आधार पर किया जा सकता है।

Suman Sharma

Written by

Author at BeBeautiful
3964 views

Shop This Story

Looking for something else