हम सभी को ये लगता है कि कहीं से कोई ऐसा जादुई काढ़ा मिल जाए, जो हमें हमेशा जवां बनाए रखे. अब ये तो हो नहीं सकता, लेकिन मेकअप की ट्रिक्स के ज़रिए हम बढ़ती उम को छुपा ज़रूर सकते हैं. और चूंकि हमारे चेहरे पर आंखों के आसपास का हिस्सा, वो हिस्सा है जो हमें देखने वालों से हमारी बढ़ती उम्र की चुगली करने लगता है तो ऐसे आइ मेकअप ट्रिक्स सीखना समझदारी है, जो आंखों के आसपास के हिस्से को जवां दिखाते हों. ऐसे ही कुछ आइ मेकअप टिप्स हम आपसे साझा कर रहे हैं, जो बढ़ती उम्र को छुपाने में कमाल के साबित होंगे.
 

अपनी आइब्रोज़ का आकार बदलें

अपनी आइब्रोज़ का आकार बदलें

हम सभी को अच्छी तरह तराशी हुई आइब्रोज़ अच्छी लगती हैं, है ना? लेकिन यदि आप जवां नज़र आना चाहती हैं तो तराशी हुई आइब्रोज़ से दूर रहना ही अच्छा है. अब पूछिए क्यों? तो वो इसलिए कि जब आप युवा थीं तब आपकी नैचुरल ब्रोज़ सीधी थीं, वे बहुत नाज़ुक दिखाई देती थीं और आइब्रोज़ का ये रूप अपनाने पर आप अपने ही युवा दिनों की तरह नज़र आएंगी. यदि सालों तक थ्रेडिंग कराने के कारण अब आपकी आइब्रोज़ धनुषाकार हो गई हैं तो उन्हें सीधा और सॉफ़्ट दिखाने के लिए आप सॉफ़्ट आइब्रो पेंसिल का इस्तेमाल करें, जैसे- लैक्मे ब्लैक आइब्रो पेंसिल/Lakme Black EyeBrow Pencil .

 

ब्राउन आइलाइनर का इस्तेमाल करें

ब्राउन आइलाइनर का इस्तेमाल करें

हम सभी अपने ब्लैक आइलाइनर को सालों से इस्तेमाल करते हुए जैसे उसके भक्त बन गए हैं, लेकिन जैसे जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, बेहतर होता है कि हम उसे अलविदा कहते हुए गर्माहट भरे ब्राउन कलर के आइलाइनर का इस्तेमाल शुरू कर दें. क्यों? क्योंकि ब्लैक आइलाइनर बरबस ही लोगों का ध्यान हमारी आंखों और उसके आसपास की बारीक रेखाओं व झुर्रियों की ओर खींचता है, जबकि ब्राउन कलर के वॉर्म शेड्स आंखों को उजला प्रभाव देते हुए आपको जवां दिखाते हैं.

बीब्यूटिफ़ुल का सुझाव: लैक्मे आइकॉनिक काजल - क्लासिक ब्राउन/Lakme Eyeconic Kajal - Classic Brown

 

न्यूड आइ पेंसिल में निवेश करें

न्यूड आइ पेंसिल में निवेश करें

यदि आप उन लोगों में से हैं, जिनकी आंखें थकी हुई महसूस होती हैं या फिर आपको डार्क सर्कल्स हैं तो न्यूड आइ पेंसिल में निवेश करें. हां, लेकिन ध्यान रखें- हमेशा ऐसे रंग का चुनाव करें, जो आपके स्किन टोन के ही जैसा या उससे मिलता-जुलता हो. इस आइ पेंसिल से अपनी वॉटर लाइन को लाइन करें और ख़ुद देखें कि आपका चेहरा कितना खिल उठता है.

 

मैट आइशैडोज़ का इस्तेमाल करें

मैट आइशैडोज़ का इस्तेमाल करें

यदि आप उन लोगों में से हैं, जिनकी आंखों के आसपस बारीक रेखाएं, झुर्रियां या क्रोज़ फ़ीट नज़र आते हैं तो ग्लिटरी आइशैडोज़ का इस्तेमाल करने से बचें और मैट आइ मेकअप प्रोडक्ट्स का ही इस्तेमाल करें. ऐसा इसलिए क्योंकि चमकीले यानी ग्लिटरी आइशैडोज़ लाइट तो रिफ़्लेक्ट करेंगे ही, साथ ही, लोगों का ध्यान आपकी झुर्रियों वगैरह की ओर ध्यान आकर्षित भी करेंगे. और इनके चमकीले कण झुर्रियों व बारीक़ रेखाओं के बीच फंस भी जाएंगे, जिससे आपकी उम्र और उभर कर लोगों को दिखाई देने लगेगी.

फ़ोटो: इन्स्टाग्राम