जब भी आप घर पर मैनिक्योर करती हैं, नेल पॉलिश लगाती हैं तो क्या आपको लगता है कि हर बार नेल पेंट बहुत जल्दी ही उखड़ने लगता है? या आपका पेंट नाख़ूनों पर उतनी अच्छी तरह नहीं चिपकता, जैसे कि चिपकना चाहिए? इसकी वजह ये हो सकती है कि आप मैनिक्योर से जुड़ी वो ग़लती कर रही हैं, जो अक्सर कई महिलाएं कर जाती हैं.

नाख़ूनों को साफ़ करने और क्यूटिकल्स को नर्म बनाने के लिए कई महिलाएं मैनिक्योर के ठीक पहले अपने हाथों को साबुन वाले पानी में भिगो कर रखती हैं. यूं तो ये प्रक्रिया कतई नुकसानदेह नहीं लगती, लेकिन यह नाख़ूने के टूटने और नेल पॉलिश के उखड़ने का बड़ा कारण होती है. आगे हम आपको वो सभी कारण बताने जा रहे हैं, जिनके चलते आपको मैनिक्योर से पहले अपने हाथों को पानी में बिल्कुल नहीं भिगोना चाहिए.

 

मैनिक्योर का जीवनकाल छोटा हो जाता है

मैनिक्योर का जीवनकाल छोटा हो जाता है

नाख़ून बहुत सरंध्र या छिद्रयुक्त (पोरस) होते हैं और जब आप उन्हें पानी में डुबोती हैं तो वे पानी को अपने भीतर अवशोषित कर लेते हैं. इससे आपके नाख़ून फैल जाते हैं और सामान्य अवस्था में आने के लिए उन्हें 24 घंटे का समय लगता है. इसलिए आपका मैनिक्योर इतने समय तक तो अच्छा दिखाई देता है, लेकिन जैसे ही आपके नाख़ून सामान्य आकार में आते हैं, नेल पेंट उखड़ने लगता है.

 

नाख़ूनों की सेहत पर बुरा असर पड़ता है

नाख़ूनों की सेहत पर बुरा असर पड़ता है

आपके मैनिक्योर को कम टिकाऊ बनाने के साथ साथ नाख़ूनों को पानी में भिगोने से नाख़ूनों को स्थायी रूप से नुकसान भी पहुंचता है. यदि आप नाख़ूनों को नियमित रूप से साबुन वाले पानी में भिगोती हैं तो साबुन में मौजूद कठोर केमिकल्स और पानी दोनों ही मिलकर आपके क्यूटिकल्स को नुकसान पहुंचा सकते हैं और इसकी वजह से लंबे समय में आपके नाख़ून कमज़ोर हो जाते हैं.

 

इससे फंगल इन्फ़ेक्शन भी हो सकता है

इससे फंगल इन्फ़ेक्शन भी हो सकता है

मैनिक्योर के उखड़ने और ख़राब दिखने के अलावा इसकी वजह से फ़ंगल इन्फ़ेक्शन भी हो सकता है. कैसे? जैसे ही पॉलिश उखड़ती है उसके बाद आप जब भी हाथ धोती हैं या स्नान करती हैं, पानी पॉलिश के नीचे इकट्ठा होने लगता है. आप इस बात को महसूस कर सकें उससे पहले ही यह फ़ंगस के पैदा होने के लिए बिल्कुल उपयुक्त जगह में बदल जाता है.