हमारे पसंदीदा सेलेब्रिटीज़ और मेकअप आर्टिस्ट समय-समय पर हमें इस बात का अंदाज़ा कराते रहे हैं कि कॉन्टूरिंग हमारे चेहरे को कितनी ख़ूबसूरती से संवार देती है. हालांकि जब भी बात कॉन्टूरिंग की होती है तो हमें लगता है कि यह गालों, नाक और ठोढ़ी को तराशा हुआ दिखाने के ही काम आती है. अगर आज तक आपने किसी से होंठों की यानी लिप कॉन्टूरिंग के बारे में नहीं सुना है तो हम आज आपको इसी के बारे में बताने जा रहे हैं! यहां हम आपको लिप कॉन्टूरिंग के तरीक़े और इसके फ़ायदों के बारे में बता रहे हैं. आगे पढ़ें और लिप कॉन्टूरिंग के बारे में हर वह बात जान लें, जो आपको मालूम होनी ही चाहिए...

लिप कॉन्टूरिंग क्या है?

इसे कैसे करते हैं?

लिप कॉन्टूरिंग क्या है?
 

लिप कॉन्टूरिंग क्या है?

होंठों का आकार बढ़ाने और उन्हें भरा हुआ दिखाने के लिए लिप कॉन्टूरिंग का इस्तेमाल किया जाता है. यह होंठों के आकार को बेहतर तरीक़े से परिभाषित कर के आपके लुक को ख़ूबसूरत बनाती है. अगर नए साल में आपने अपने होंठों का ध्यान रखने का रिज़ॉल्यूशन लिया है तो आपको लिप कॉन्टूरिंग स्किल्स अपनाने में ज़रा भी देर नहीं करनी चाहिए.

आपको क्या चाहिए होगा?

  • लिप बाम
  • लिप लाइनर
  • न्यूड लिपस्टिक
  • हाइलाइटर

इसे कैसे करते हैं?
 

इसे कैसे करते हैं?

  • इसकी शुरुआत अपने होंठों को सौम्यता से एक्स्फ़ॉलिएट करने से करें. इससे होंठों पर मौजूद सूखी और पपड़ीदार त्वचा हट जाएगी. अब अपनी पसंदीदा चिपचिपाहट रहित लिप-बाम लगा लें.
  • लिप लाइनर का इस्तेमाल करते हुए अपने होंठों के क्यूपिड बो (ऊपरी होंठ पर मौजूद धनुषाकार) पर अंग्रेज़ी का ‘X’ बना लें और फिर अपने होंठों को आउटलाइन कर लें. लिप लाइनर से होंठों को आउटलाइन करते समय यह लाइन अपने होंठों की स्वाभाविक आउटलाइन से बहुत ज़्यादा दूर न बनाएं.
  • अब होंठों पर न्यूड लिपस्टिक लगाएं और इसे लिप लाइनर के साथ इस तरह ब्लेंड करें, ताकि यह पता न चलने पाए कि आपने होंठों को आउटलाइन किया है.