एक्स्फ़ॉलिएशन आपकी त्वचा की देखभाल का अहम् हिस्सा है, क्योंकि यह आपकी त्वचा से मृत कोशिकाओं यानी डेड सेल्स को हटाने का काम करता है. जब त्वचा की ऊपरी पर्त से डेड स्किन सेल्स हटती हैं तो नई दमकती हुई त्वचा सामने आती है. पर क्या आपको पता है कि आपको अपनी स्किन टाइप के अनुसार ही त्वचा को एक्स्फ़ॉलिएट करना चाहिए? ऐसा इसलिए क्योंकि हर स्किन टाइप को अलग तरह की देखभाल की ज़रूरत होती है.  क्या आप ऐसा कर रही हैं? यदि नहीं तो यह आलेख आपके लिए ही है, क्योंकि हम बता रहे हैं कि अपनी त्वचा के अनुसार आपको उसे किस तरह एक्स्फ़ॉलिएट करना चाहिए.

संवेदनशील त्वचा यानी सेंसिटिव स्किन
 

संवेदनशील त्वचा यानी सेंसिटिव स्किन

संवेदनशील त्वचा पर बहुत ही आसानी से जलन, लालिमा या अनचाहे रैशेज़ आ सकते हैं. अत: मेकैनिकल तरीक़ों से स्क्रब न करें. इसकी बजाय डेड सेल्स को हटाने के लिए सौम्य वॉशक्लोद या मलमल के कपड़े का इस्तेमाल करें, ताकि त्वचा को निस्तेज बनाने वाली ये मृत कोशिकाएं आपके चेहरे से हट जाएं, त्वचा पर किसी तरह के रैशेज़ भी न आएं और आपका चेहरा दमकता हुआ दिखाई देने लगे.

रूखी त्वचा यानी ड्राइ स्किन
 

रूखी त्वचा यानी ड्राइ स्किन

रूखी और पपड़ीदार त्वचा के लिए एक्स्फ़ॉलिएशन बहुत ज़रूरी है, क्योंकि इससे आपके स्किन केयर प्रोडक्ट्स आपकी त्वचा के भीतर तक समाहित होंगे और प्रभावी तरीक़े से अपना काम कर सकेंगे. ड्राइ स्किन भी मेकैनिकल स्क्रबिंग के प्रति संवेदनशील होती है अत: यदि आपकी त्वचा रूखी है तो डेड सेल्स को हटाने के लिए कॉटन टॉवेल का इस्तेमाल करें. क्लेंज़र को अपने चेहरे पर अप्लाइ करें और कॉटन की टॉवेल से सौम्यता से इसे हटाएं, ताकि डेड स्किन सेल्स भी निकल जाएं और त्वचा को किसी तरह का नुक़सान भी न पहुंचे.

तैलीय त्वचा यानी ऑइली स्किन
 

तैलीय त्वचा यानी ऑइली स्किन

तैलीय त्वचा पर ऑइल या चिकनाई की एक अतिरिक्त पर्त होती है अत: इस तरह की त्वचा के लिए हाथ से या ब्रश से एक्स्फ़ॉलिशन करने की सलाह दी जाती है. आप सेंट ईव्स जेंटल स्मूदिंग ओटमील स्क्रब ऐंड मास्क इस्तेमाल कर सकती हैं. इसे चेहरे पर सौम्यता से सर्कुलर मोशन में लगाएं, इससे आपको बेहतरीन एक्स्फ़ॉलिशन का अनुभव होगा. यह स्क्रब डर्मैटोलॉजिस्ट टेस्टेड और पैराबीन-फ्री फ़ॉर्मूला वाला है, जो आपकी त्वचा की प्राकृतिक आभा को निखार कर समाने ले आएगा.

मिलीजुली त्वचा यानी कॉम्बिनेशन स्किन
 

मिलीजुली त्वचा यानी कॉम्बिनेशन स्किन

चूंकि आपकी त्वचा कहीं ऑइली और कही ड्राइ है तो आप यह सुनिश्चित करें कि कहीं आप एक ही दिन में एक्स्फ़ॉलिएट करने के सभी तरीक़ों को न अपनाएं. आप इन तरीक़ों के बीच बदलाव करती रहें और यक़ीनन आपको इसके बेहतरीन फ़ायदे मिलेंगे.

काम की सलाह: आपका स्किन टाइप चाहे जो हो, यह तय है कि एक्स्फ़ॉलिएशन के तुरंत बाद आपकी त्वचा थोड़ी रूखी महसूस होगी अत: एक्स्फ़ॉलिएशन के बाद अपने चेहरे को अच्छी तरह मॉइस्चराइज़ करना न भूलें.