हमें जानते हैं कि अब तक आपको स्किनकेयर रूटीन का नियम से पालन करने के फ़ायदों के बारे में तो पता चल ही गया होगा, क्योंकि यही वो चीज़ है जिससे आपको साफ़-सुथरी, स्वस्थ और चमकदार त्वचा मिलेगी. लेकिन दुनिया की हर चीज़ की तरह इस मामले में भी कई तरह के नियम और शर्तें लागू होते हैं.

इससे पहले कि आप हमारी बात के कुछ और मायने निकालें हम आपको बता दें कि स्किनकेयर के साथ केवल दो ही तरह की शर्तें लागू होती हैं और वो हैं- नियमित रहना और त्वचा के लिए उपयुक्त स्किनकेयर इन्ग्रीडिएंट्स का इस्तेमाल करना. जहां हम आपको स्किनकेयर रूटीन के लिए नियमित रहने के बारे में केवल सलाह ही दे सकते हैं, वहीं हम ऐसे इन्ग्रीडिएंट्स की सूची बनाने में पूरी मदद कर सकते हैं, जो आपकी त्वचा को फ़ायदा पहुंचाएंगे. तो इन सामग्रियों के बारे में जानने के लिए इस आलेख को पढ़ती जाएं.

 

1. ऐंटीऑक्सिडेंट्स

1. ऐंटीऑक्सिडेंट्स

आपके स्किनकेयर रूटीन में एक-दो प्रोडक्ट्स ऐसे ज़रूर होने चाहिए, जिनमें भरपूर मात्रा में ऐंटीऑक्सिडेंट्स हों. त्वचा की सुरक्षा करने वाले यानी स्किन प्रोटेक्टर्स के नाम से भी पहचाने जाने वाले इन इन्ग्रीडिएंट्स में विटामिन C, ग्रीन टी, लिकरिश आदि शामिल हैं. ये सामग्रियां आपकी त्वचा को पर्यावरण में मौजूद धूल, गंदगी, प्रदूषण और सूर्य की किरणों से होने वाले नुक़सान से बचाती हैं. अत: हम आपको सलाह देंगे कि आप ऐसे मॉइस्चराइज़र्स और सनस्क्रीन्स का चुनाव करें, जिनमें ऐंटीऑक्सिडेंट्स प्रचुर मात्रा में हों.

 

2. त्वचा को पुनर्जीवित करने वाले इन्ग्रीडिएंट्स

2. त्वचा को पुनर्जीवित करने वाले इन्ग्रीडिएंट्स

हमने आपको पहले भी स्किन केयर रूटीन में ऐंटी-एजिंग प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल के महत्व के बारे में बताते हुए कहा था कि आपको इनका इस्तेमाल 23 की उम्र से शुरू कर देना चाहिए. और आख़िर ऐंटी-एजिंग प्रोडक्ट्स में होता क्या है? त्वचा को पुनर्जीवित वाले यानी स्किन-रीस्टोरिंग इन्ग्रीडिएंट्स होते हैं, जो त्वचा के प्राकृतिक कोलैजन के उत्पादन को बढाते हैं. है ना अच्छी बात? इसलिए ऐंटी-एजिंग प्रोडक्ट्स ख़रीदते समय यह सुनिश्चित करें कि उसमें रेटिनॉल या नाइअसिनमाइड ज़रूर हो, ताकि आपको बेहतरीन नतीजे मिलें.

 

3. त्वचा को मज़बूत बनाने वाले इन्ग्रीडिएंट्स

3. त्वचा को मज़बूत बनाने वाले इन्ग्रीडिएंट्स

नियमित रूप से स्किनकेयर रूटीन का पालन करने से त्वचा पर एक अवरोध बन जाता है, जो मॉइस्चर को त्वचा के भीतर सील कर देता है और पर्यावरण के हानिकारक कणों को त्वचा को नुकसान पहुंचाने से रोकता है. ये सामग्रियां सुनिश्चित करती हैं कि आपकी त्वचा नर्म-मुलायम, सेहतमंद और दमकती हुई बनी रहे. ग्लिसरीन, हायलूरॉनिक ऐसिड और ओमेगा फ़ैटी ऐसिड्स त्वचा के अवरोध को सुरक्षित रखने में अहम् भूमिका निभाते हैं.

 

4. त्वचा को एक्स्फ़ॉलिएट करने वाले इन्ग्रीडिएंट्स

4. त्वचा को एक्स्फ़ॉलिएट करने वाले इन्ग्रीडिएंट्स

यदि आप त्वचा की देखभाल को लेकर उत्साहित रहने वाले लोगों में से हैं तो हमें भरोसा है कि आपने केमिकल एक्स्फ़ॉलिएटर के बारे में सुना होगा. पर ये होते क्या हैं? दरअस्ल, ये होते तो एक्स्फ़ॉलिएटर्स ही हैं, पर इनमें त्वचा के लिए कठोर एक्स्फ़ॉलिएटिंग बीड्स नहीं होते. इस वजह से वे त्वचा पर बेहद सौम्य होते हैं और आप चाहें तो रोज़ाना उनका इस्तेमाल कर सकती है. एएचएज़ (AHAs) और बीएचएज़ (BHAs) वो दो प्रमुख केमिकल एक्स्फ़ॉलिएंट्स हैं, जो क्रमश: सामान्य, रूखी व ऑइली और संवेदनशील व मुहांसों के लिए संवेदनशील त्वचा के लिए सही रहते हैं.