कोकोनट ऑयल यानी नारियल तेल बालों को सेहतमंद और मज़बूत बनाने के लिए सबसे ज़्यादा असरकारक माना गया है। सदियों से हमारी दादी-नानी और माएं सिर में मसाज़ के लिए इसी तेल का इस्तेमाल करती आईं हैं और यही परंपरा हम अब भी निभा रहे हैं। पिछले कुछ सालों में स्किन केयर में भी इसका महत्व काफी बढ़ गया है। स्किन एक्स्पर्ट्स का मानना है कि स्किन पर कोकोनट ऑयल लगाना स्किन के लिए अच्छा होता है। यह स्किन को हाइड्रेट करता है, डार्क पैचेज़ को लाइट करता है और कोलेजन के प्रोडक्शन को बढ़ाता है।

कोकोनट ऑयल के इतने सारे फ़ायदे सुनकर अब आप भी इसे स्किन के लिए इस्तेमाल करने के बारे में सोच रही होंगी। लेकिन इस्तेमाल के पहले इसके बारे में कुछ बातें जानना ज़रूरी है। आइये, बताते हैं...

 

01. सही तरह का ऑयल चुनें

01. सही तरह का ऑयल चुनें

कोकोनट ऑयल तीन तरह के होते हैं- रिफाइंड, अनरिफाइंड और लिक्विड। जो ऑयल आप सिर में मालिश के लिए यूज़ करते हैं, वही आप हर चीज़ के लिए यूज़ नहीं कर सकते। जो ऑयल आप खाने में इस्तेमाल करते हैं वो रिफाइंड ऑयल होता है और जो आप सिर में मालिश के लिए लेते हैं वो स्किन के लिए हैवी होता है। अनरिफाइंड, ऑर्गेनिक और कोल्ड प्रेस्ड ओयक स्किन के लिए बेस्ट होता है, क्योंकि यह शुद्ध होता है और इसमें केमिकल्स नहीं होते। इसलिए अपनी ज़रूरत के अनुसार ऑयल का चुनाव करें।

 

02. यह फोर्स को क्लोग कर सकता है

02. यह फोर्स को क्लोग कर सकता है

कोकोनट ऑयल भले ही स्किन के लिए बहुत फायदेमंद होता हो, लेकिन इसका एक नुकसान भी है, वो ये कि यह पोर्स को क्लोग कर सकता है। पोर्स क्लोग होने पर क्या हो सकता है यह आपको बताने की ज़रूरत बिलकुल नहीं है। इससे डेड स्किन सेल्स, बैक्टीरिया स्किन पर जमा हो जाएंगे और अतिरिक्त सीबम प्रोडक्शन से ब्लैकहेड्स और ऐक्ने हो सकते हैं। बेहतर होगा कि पूरे फ़ेस पर कोकोनट ऑयल को लगाने के बजाय पहले अलग से स्किन पर लगाकर उसका परिणाम देख लें । प्योर वर्जिन कोकोनट ऑयल ही फ़ेस पर लगाएं, यह ज़रूर ध्यान रखें।

 

03. हर ड्राय स्किन का हल कोकोनट ऑयल नहीं है

03. हर ड्राय स्किन का हल कोकोनट ऑयल नहीं है

माना कि कोकोनट ऑयल स्किन को हाइड्रेट करता है यानी उसकी नमी बरकरार रखता है लेकिन इसका मतलब यह कतई नहीं है कि ड्राय स्किन से संबंधित हर समस्या का हल कोकोनट ऑयल है। इसे आप एक्ज़िमा ठीक करने के लिए यूज़ नहीं कर सकते। लेकिन यदि आपकी बॉडी की स्किन ड्राय है तो इसे मोइश्चराइज़ करने के लिए नारियल तेल से बेहतर कुछ नहीं है।

 

04. इससे स्किन क्लीन नहीं हो सकती

04. इससे स्किन क्लीन नहीं हो सकती

कई लड़कियां मेकअप हटाने के लिए कोकोनट ऑयल का इस्तेमाल करती हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि इससे मेकअप आर्टिकल आसानी से टूट जाते हैं और स्किन को रगड़ना नहीं पड़ता। माना कि यह सही है, लेकिन इसके बाद आपको फ़ेस वॉश करने की ज़रूरत भी तो होती है। जबकि मिस्लर वॉटर से फ़ेस क्लीन करने के बाद आपको पानी से अलग से फ़ेस वॉश नहीं करना पड़ता। इसलिए इससे मेकअप रिमूव न करें और यदि करें तो इसके बाद फ़ेस वॉश कर लें ।