जे या के? जी हां, जापानी ब्यूटी बेहतर है या कोरियन- हम इस बहस में पड़ने की बजाय खुद रिसर्च करके ये पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि आखिर, किस तरीके से खूबसूरती निखारी जा सकती है। और रिसर्च से हमने पाया कि कुछ तो बात है जापानी स्किन केयर चीजों में जो उसे सबसे अलग बनाती है। खास बात यह है ये लोग नेचुरल इंग्रेडिएंट्स पर ज़्यादा भरोसा करते हैं। जापानीज़ स्किन केयर इंग्रेडिएंट्स, जैसे- चेरी ब्लोसम और शुगर ऑयल ने कुछ सालों में पहले ही लोकप्रियता हासिल कर ली है।

तो क्यों न हम भी इसे ट्राय करें। तो हम आपके लिए लाए हैं, तीन ऐसे ब्यूटी इंग्रेडिएंट्स, जो आपको आसानी से उपलब्ध हो सकते हैं और आप उन्हें अपने स्किन केयर रूटीन में शामिल कर सकती हैं, ताकि आपको मिले फ्लालेस स्किन।

 

राइस एक्स्ट्रेक्ट

राइस एक्स्ट्रेक्ट

राइस एक्सट्रैक्ट एक चमत्कारिक इंग्रेडिएंट है, जो प्रोटीन, अमिनो एसिड, विटामिन ई, फेरुलिक एसिड और एंटी इन्फ़्लेमेट्री गुणों से भरपूर है। यह सेंसिटिव स्किन के लिए फ़ायदेमंद है, क्योंकि यह उसे ठंडक और राहत देता है। इससे सनबर्न, स्किन के रोग और स्पोट्स भी खत्म होते हैं। राइस ब्रान के नियमित रूप से इस्तेमाल से इसमें मौजूद ऑयल और एसेन्शियल फैटी एसिड स्किन को हायड्रेट करती है और उसे नर्म व मुलायम बनाती है।

 

ग्रीन टी

ग्रीन टी

ग्रीन टी के फ़ायदे से हम सही वाकिफ हैं। इसे सबसे ज़्यादा असरकारक स्किन केयर इंग्रेडिएंट माना गया है। इसमें एंटी ऑक्सीडेंट्स और एंटीबैक्टीरियल एजेंट्स होते हैं। एक कप ग्रीन टी रोज़ाना पीने से उम्र बढ़ने के संकेत कम हो जाते हैं और आपकी स्किन जवां नज़र आती है। इसी तरह ग्रीन टी यानी ग्रीन टी बैग या ऐसा फ़ेस मास्क जो ग्रीन टी से बना हो, इसके फ़ेस पर इस्तेमाल करने से डार्क स्पोट्स, एक्ने, डार्क सर्कल्स और पिग्मेंटेशन कम होते हैं।

 

कैमेलिया ऑयल

कैमेलिया ऑयल

इस ऑयल के बारे में बहुत कम लोग जानते होंगे। यह बहुत हायड्रेटिंग और चिपचिपाहट रहित होता है, लेकिन यह पॉलीफिनोल एंटीऑक्सीडेंट्स और पामिटिक व ओमेगा-6 लिनोलेक फैटी एसिड्स से भरपूर होता है, जो एजिंग साइन्स से लड़ता है और स्किन को हाइड्रेट करता है, साथ ही इससे स्किन ऑयली भी नहीं लगती। यह स्किन का नेचुरल मोइश्चर को बरकरार रखता है और इलास्टिसिटी को इंप्रूव करता है। आप इस ऑयल को अपने बालों में भी लगा सकती हैं, ताकि आपको मिले सेहतमंद बाल। कैमेलिया ऑयल स्किन को इर्रिटेशन और इन्फ़्लेमेशन से भी राहत दिलाता है।