आपके चेहरे पर रातभर में जो पिम्पल ऊग आया है, उसे आईने में घूरते रहने से तो वो हटेगा नहीं! हमें पता है कि आपको एक बहुत ज़रूरी अवसर पर जाना है और आप इस मुहांसे से किसी भी तरह निजात पाना चाहती हैं, पर काश यह इतना आसान होता! पर आप चिंता मत कीजिए, क्योंकि ये इतना मुश्क़िल भी नहीं है, जितना किआप सोच रही हैं. पर हम आपको यहां आगाह कर दें कि आपकी दोस्तों की सलाह से यदि आप मुहांसों का कोई इलाज करने की सोच रही हैं तो यह जान लें कि जो उनके लिए काम करता है, ज़रूरी नहीं कि आपके लिए भी काम करे ही.

यही वजह है कि हम यहां आपको जांचे-परखे, आज़माए हुए, ख़ुद घर पर तैयार किए जा सकने वाले कुछ ऐसे ट्रीटमेंट्स के बारे में बता रहे हैं, जो आपके मुहांसों और उनके दाग़ों को ऐसे ठीक कर देंगे, जैसे वो कभी थे ही नहीं.

मनुका शहद
 

मनुका शहद

घावों और त्वचा से जुड़े इन्फ़ेक्शन्स में राहत पहुंचाने के लिए शहद का इस्तेमाल सदियों से होता आ रहा है. जहां हर तरह के शहद में ऐंटीबैक्टीरिअल गुण होते हैं, वहीं शोध से यह पता चला कि मनुका शहद में सबसे अधिक शक्तिशाली ऐंटीबैक्टीरिअल गुण होते हैं. साथ ही शहद का पीएच स्तर भी कम होता है अत: इस पर बैक्टीरिया पनप नहीं पाते हैं. मटर के दाने के बराबर मनुका शहद को सीधे मुहांसों पर लगाएं और 15 मिनट तक लगा रहने दें. फिर चेहरा धो लें. कुछ दिनों तक इसका इस्तेमल करती रहें.

टी ट्री ऑइल
 

टी ट्री ऑइल

यदि कोई ऐसी चीज़ है जिससे कि आपके मुहांसे डरते हैं तो वो है- टी ट्री ऑइल. यह ऑइल सूजे हुए लाल मुहांसों का प्रभावी इलाज है. इसमें वह फ़ॉर्मूला है, जिससे सूजे हुए मुहांसे, ब्लैकहेड्स और वाइटहेड्स कम होते हैं. शोध बताते हैं कि इससे त्वचा पर बेन्ज़ॉइल परॉक्साइड जैसा प्रभाव पड़ता है, लेकिन त्वचा पपड़ीदार नहीं होती, लालिमा भी नहीं आती और जलन भी नहीं होती. यदि आपके टी ट्री ऑइल का कॉन्सन्ट्रेशन लेवल 15% से ज़्यादा है तो इसे पानी के साथ मिला कर हल्का कर लें और फिर मुहांसों पर लगाएं. इसे दिन में दो बार तब तक लगाती रहें, जब तक कि मुहांसे पूरी तरह ग़ायब न हो जाएं.

ऐप्पल साइडर विनेगर
 

ऐप्पल साइडर विनेगर

ऐप्पल साइडर विनेगर आपके किचन में ज़रूर ही होना चाहिए. यह आपके शरीर को डीटॉक्सिफ़ाइ करता है और बैक्टीरियाज़ को नष्ट कर के आपको साफ़-सुथरी, बेदाग़ त्वचा देता है. आप सुबह-सुबह खाली पेट इसे पी रही हों या इसे मुहांसों की जगह पर लगा रही हों, ऐप्पल साइडर विनेगर से आपको बहुत सारे फ़ायदे मिलेंगे. आप इसे टोनर की तरह इस्तेमाल कर अपनी त्वचा का पीएच स्तर संतुलित रख सकती हैं. एक कॉटन बॉल या क्यू टिप को ऐप्पल साइडर विनेगर में डुबोएं और इसे सीधे ही मुहांसों पर लगाएं. इसे लगाते समय सावधान रहें और इसे खुले हुए घावों पर बिल्कुल न लगाएं.

ऐस्परिन
 

ऐस्परिन

सिरदर्द में इसे खा कर आराम आता है तो जब मुहांसे और उसकी सूजन की बात हो तो इसे उस जगह पर लगा कर राहत मिलती है. हम बात ऐस्परिन की कर रहे हैं. इसमें सैलिसिलिक ऐसिड की अधिक मात्रा होती है, जो मुहांसों को ठीक करने में कारगर है. एक ऐस्परिन को पीसें, इसमें कुछ बूंद पानी मिला कर पेस्ट बना लें. इस पेस्ट को सीधे ही मुहांसों पर लगाएं. लगभग पांच से दस मिनट तक लगा रहने दें और फिर चेहरा धो लें.