फ़ेस पर रेड बंप्स होना बहुत आम बात है, लेकिन आर्म्स के ऊपर रेड बंप्स आपके हाथों की खूबसूरती को बिगाड़ सकता है। तो पहले ये जान लें की ये होता कैसे है. जब स्किन के पोर्स खुलते हैं तो इसमें डेड स्किन सेल्स, बैक्टीरिया और ऑइल जमा हो जाता है। और जब आपकी बॉडी पोर्स में बाहरी तत्वों से लड़ने की कोशिश करती है, तब रेड पिम्पल जैसा बम्प बन जाता है। इसके अलावा हार्मोन्स के असंतुलन, हायजीन, स्किन केयर प्रोडक्ट्स और टाइट कपड़ों से भी आर्म्स पर रेड बंप्स हो जाते हैं। अगर आपकी आदत इन्हें नोचने या कुरेदने की है तो ये बिलकुल ठीक नहीं है. क्योंकि इससे ये ठीक नहीं होंगे, बल्कि और ज़्यादा बढ़ जाएंगे। इनसे छुटकारा पाने के लिए हम आपको बता रहे हैं कुछ उपाय।

 

गर्म पानी

गर्म पानी

रेड बंप्स को ठीक करने के लिए गर्म पानी से नहाएं। गर्म पानी से स्किन के पोर्स खुल जाएंगे और उसमें जमा गंदगी, धूल-मिट्टी आदि बाहर आ जाएंगे, जो रेड बंप्स और पिम्प्ल्स का मुख्य कारण है। गर्म पानी से नहाने के अलावा आप स्टीम बाथ भी ले सकते हैं। यह भी उतना ही प्रभावकारी है।

 

एक्सफोलियशन

एक्सफोलियशन

फ़ेस की स्किन को एक्सफोलिएट करना ही काफी नहीं है, बल्कि पूरी बॉडी की स्किन को एक्सफोलिएट करना ज़रूरी है। यदि आपके आर्म्स पर रेड बंप्स हैं तो नियमित रूप से हफ़्ते में एक या दो बार स्किन को एक्सफोलिएट करना चाहिए। ऐसा करने से बंद पोर्स खुल जाएंगे और आपको मिलेगा छुटकारा उन रेड बंप्स से, जो आपको परेशान कर रहे हैं। एक्सफोलिएशन को अपने डेली स्किन केयर रूटीन का हिस्सा बनाने से स्किन की अन्य समस्याएं भी खत्म होंगी।

 

बेंज़ोइल परऑक्साइड या सैलिसिलिक एसिड इस्तेमाल करें

बेंज़ोइल परऑक्साइड या सैलिसिलिक एसिड इस्तेमाल करें

ऐसी क्रीम इस्तेमाल करें, जिसमें बेंज़ोइल परऑक्साइड या सैलिसिलिक एसिड हो। बेंज़ोइल परऑक्साइड ऐंटी बैक्टीरियल है, यानि यह उन बैक्टीरिया को मारता है जो पोर्स में ऐक्ने होने का कारण है। यह पावरफुल इंग्रेडिएंट हर तरह के ऐक्ने और रेड बंप्स को ठीक करने के काम आता है। सैलिसिलिक एसिड रेड बंप्स की सूजन को कम करता है और उस स्किन को हटाने में मदद करता है, जो पोर्स को बंद कर देती है। अपने डेली स्किन केयर रूटीन में इस क्रीम को शामिल करें और रेड बंप्स से छुटकारा पाएं।

 

 

कुछ सावधानियां बरतकर भी आप रेड बंप्स को अपनी स्किन से दूर रख सकते हैं। जानिए, क्या हैं वो सावधानियां।

कुछ सावधानियां बरतकर भी आप रेड बंप्स को अपनी स्किन से दूर रख सकते हैं। जानिए, क्या हैं वो सावधानियां।

  • बहुत ज़्यादा न धोएं: आपके आर्म्स की स्किन को दिनभर गर्मी, धूल, गंदगी और प्रदूषण आदि का सामना करना पड़ता है, इसलिए ज़रूरी है कि इस हिस्से को साफ-सुथरा रखा जाये। लेकिन साथ ही ये भी ध्यान रखें कि इसे ज़रूरत से ज़्यादा न धोएं। ज़्यादा धोने से स्किन इर्रिटेट हो सकती है और बंप्स पर रेडनेस और सूजन बढ़ सकती है।
  • बंप्स को नोचें या कुरेदें नहीं: जब आप लगातार रेड बंप्स को छूते रहते हैं तो, आप अपने हाथ से ऑइल और बैक्टीरिया को और फैलने में मदद करते हैं, इससे कंडीशन और खराब हो सकती है। यहां तक कि इससे इन्फेक्शन होने की संभावना भी बढ़ जाती है। इसके अलावा बंप्स को नोचें या कुरेदें नहीं, ऐसा करने से स्किन इर्रिटेट होगी और यह तकलीफदायक भी होगा।
  • सनस्क्रीन के बगैर घर से बाहर न निकलें: घर से बाहर निकलते समय सनस्क्रीन न सिर्फ फ़ेस पर बल्कि आर्म्स पर भी लगाएं। तेज़ धूप और गर्मी से आपकी स्किन ज़्यादा ऑइल प्रोड्यूस कर सकती है, जिससे रेड बंप्स हो सकते हैं।