यहां जानिए कि कॉम्बिनेशन स्किन की देखभाल के लिए क्या करें और क्या न करें

Written by Shilpa SharmaSep 16, 2023
यहां जानिए कि कॉम्बिनेशन स्किन की देखभाल के लिए क्या करें और क्या न करें

हमें पता है कि कॉम्बिनेशन स्किन की देखभाल कितनी पेचीदा होती है. स्किन केयर प्रोडक्ट्स और ब्यूटी प्रोडक्ट्स चुनते समय आपको बहुत सी बातों का ख़्याल रखना पड़ता है. जहां ब्लॉटिंग पेपर साथ रखना पड़ता है, वहीं मॉइस्चराइज़र की बॉटल भी साथ लेनी पड़ती है, क्योंकि आपको पता ही नहीं होता कि आपकी त्वचा कब, कौन-सी भूमिका निभाने लगेगी-ऑइली स्किन की या ड्राइ स्किन की!

इस जटिल-से स्किन टाइप के साथ आपको थोड़ी मदद की ज़रूरत होगी. यहां हम आपको इसी से जुड़े कुछ व्यावहारिक समाधान सुझा रहे हैं. बता रहे हैं कि कॉम्बिनेशन स्किन की देखभाल के लिए आपको क्या करना चाहिए और क्या करने से बचना चाहिए...

 

क्या करें: दोनों तरह के प्रोडक्ट्स शामिल करें

क्या करें: अपनी त्वचा की देखभाल के तरीक़े को बदलती रहें

कॉम्बिनेशन स्किन माथे, नाक और ठोढ़ी यानी टी-ज़ोन पर तैलीय (ऑइली) होती है और यू-ज़ोन यानी चेहरे के बचे हुए हिस्से जैसे- गाल आदि पर रूखी (ड्राइ) होती है. अत: इसे अलग-अलग स्किन केयर प्रोडक्ट्स की ज़रूरत होती है, जो इस त्वचा की दोनों समस्याओं पर काम कर सकें. अपने टी-ज़ोन के लिए वॉटर-बेस्ड, नॉन-कमीडोजेनिक प्रोडक्ट्स और मॉइस्चराइज़र का इस्तेमाल करें. वहीं बचे हुए चेहरे के लिए ऑइल बेस्ड प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करें.

 

क्या न करें: मॉइस्चराइज़िंग करना न छोड़ें

क्या करें: अपनी त्वचा की देखभाल के तरीक़े को बदलती रहें

इस बात का ध्यान रखना बहुत ज़रूरी है कि ऑइली और कॉम्बिनेशन स्किन को भी हाइड्रेशन की ज़रूरत होती है और इसीलिए मॉइस्चराइज़र लगाना कभी भी बंद न करें. यदि आप ऐसा करेंगी तो आपका यू-ज़ोन रूखा और कड़ा बनता जाएगा. आप ऐसे मॉइस्चराइज़र का इस्तेमाल करें, जो हल्का और ऑइल-फ्री हो, जैसे- पॉन्ड्स लाइट मॉइस्चर नॉन-ऑइली फ्रेश फ़ील. यह आपकी त्वचा के रोमछिद्रों यानी पोर्स को बिना बंद किए, त्वचा को हाइड्रेट कर देगा.

 

क्या करें: नियमित रूप से त्वचा को एक्स्फ़ॉलिएट करें

क्या करें: अपनी त्वचा की देखभाल के तरीक़े को बदलती रहें

ऑइली टी-ज़ोन पर ब्लैकहेड्स, वाइटहेड्स और मुहांसे हो जाते हैं. अत: सप्ताह में दो बार अपने चेहरे के इस हिस्से को एक्स्फ़ॉलिएट करें, ताकि अतिरिक्त ऑइल और त्वचा की मृत कोशिकाएं यानी डेड स्किन सेल्स भी हट जाएं. स्क्रब करने के लिए हम आपको सेंट ईव्स एनर्जाइज़िंग कोकोनट ऐंड कॉफ़ी स्क्रब के इस्तेमाल की सलाह देंगे. जहां इसमें मौजूद कॉफ़ी के सत्व चेहरे से तेल, डेड स्किन सेल्स और त्वचा पर जमी धूल-गंदगी हटाएंगे, वहीं नारियल के सत्व त्वचा को मॉइस्चराइज़ करेंगे.

 

क्या न करें: टोनर का इस्तेमाल न भूलें

क्या करें: अपनी त्वचा की देखभाल के तरीक़े को बदलती रहें

जब आप अपना चेहरा साफ़ कर लें तो इसके बाद हमेशा टोनर का इस्तेमाल करें. यह त्वचा के रोमछिद्रों यानी पोर्स को सिकोड़ता है, तेल को साफ़ करता है, आपकी त्वचा को हाइड्रेट करता है और उसका पीएच संतुलन बनाए रखता है. आपको हमेशा ऐल्कहॉल मुक्त और सौम्य टोनर का इस्तेमाल करना चाहिए, जैसे- लैक्मे ऐब्सलूट पोर फ़िक्स टोनर. इसे कॉटन पैड पर लें और अपने पूरे चेहरे पर लगाएं.

 

क्या करें: अपनी त्वचा की देखभाल के तरीक़े को बदलती रहें

क्या करें: अपनी त्वचा की देखभाल के तरीक़े को बदलती रहें

जहां मौसम के बदलने के साथ सभी की त्वचा अलग तरह से व्यवहार करती है, वहीं कॉम्बिनेशन स्किन मौसम में ज़रा-से बदलाव से भी प्रतिक्रिया करती है. गर्म दिनों में यह ऑइली हो जाती है तो और इस पर हल्के प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल की ज़रूरत पड़ती है तो वहीं सर्दी के मौसम में इसे गहन मॉइस्चराइज़िंग और नॉन-कमीडोजेनिक प्रोडक्ट्स की ज़रूरत पड़ती है, ताकि यह रूखेपन से बच सके.                 

Shilpa  Sharma

Written by

इन्हें भीतरी सुंदरता पर अटूट भरोसा है. इनका मानना है कि हर इन्सान अपने आप में बेहद ख़ूबसूरत है. ये मेकअप को सुंदरता का जश्न मनाने का बेहतरीन ज़रिया मानती हैं तो मुस्कान को चेहरे का सबसे सुंदर मेकअप! इन्हें पढ़ने-लिखने, लोगों से मिलने-जुलने और खाने-पीने का ख़ासा शौक़ है और इन चीज़ों को पाने के लिए यात्राएं करना बेहद पसंद है.

4455 views

Shop This Story

Looking for something else