हमारे पास हर चीज़ का उपाय है। ज़रा-सी कोई समस्या हुई नहीं कि हम कुछ न कुछ घरेलू उपाय कर लेते हैं, बगैर ये जाने कि वो हमारी स्किन, हेयर या सेहत के लिए ठीक भी है या नहीं। हां, हम मानते हैं कि कुछ उपाय बहुत कारगर सिद्ध होते हैं, पर वहीं कुछ आपको नुक़सान भी पहुंचा सकते हैं, ख़ासतौर पर स्किन के मामले में यह बात पूरी तरह लागू होती है। कई लोग स्किन प्रॉब्लम, जिसे ऐक्ने पर टूथपेस्ट या विक्स लगाते हैं, जबकि ये साबित हो चुका है कि वो स्किन के लिए कितने नुकसानदायक हो सकते हैं।

आपकी स्किन को नुकसान न पहुंचे इसके लिए, हम आपको बता रहे हैं 5 ऐसे उपाय, जो आपको स्किन प्रॉब्लम्स के लिए कभी भी घर पर इस्तेमाल नहीं करने चाहिए।

 

01. ब्लैकहेड्स को मेल्ट करना

01. ब्लैकहेड्स को मेल्ट करना

ब्लैकहेड्स को दबाएं या नोंचें नहीं। इससे स्किन पर इर्रिटेशन हो सकता है और ज़ख्म भी हो सकता है। यह कितना तकलीफ़दायक हो सकता है, यह आप बखूबी समझ सकते हैं। लोगों का मानना है कि पेट्रोलियम जेली या गरम तौलिये को ब्लैकहेड्स पर रखने से वो पिघल जाता है। लेकिन सच तो यह है कि इससे आपके पोर्स क्लॉग हो सकते हैं और यह आपकी समस्या को और भी बढ़ा सकता है। इसका एकमात्र उपाय यह है कि आप स्किन स्पेशियलिस्ट को दिखाएं।

 

02. नींबू को ब्लीच के तौर पर इस्तेमाल करना

02. नींबू को ब्लीच के तौर पर इस्तेमाल करना

नींबू में बहुत गुण होते हैं, न सिर्फ सेहत बल्कि स्किन के लिए भी यह बहुत काम का है। इसीलिए लोग इसका किसी न किसी रूप में स्किन पर इस्तेमाल करते हैं। जब आपको एसिडिटी होती है तब आप नींबू को पानी में मिलाकर पीते हैं, तब जाकर यह फायदा देता है। इसी तरह फ़ेस पर डार्क पैचेज़ या अंडरआर्म्स या होंठों की रंगत बदलने के लिए नींबू का रस डायरेक्ट लगाना स्किन को हानि पहुंचा सकता है। इससे स्किन पर रेडनेस, जलन या स्किन निकाल सकती है। इसलिए ऐसा न करें।

 

03. होंठों को बड़ा करने के लिए दालचीनी रगड़ना

03. होंठों को बड़ा करने के लिए दालचीनी रगड़ना

आप इंटरनेट खोल कर देखेंगे तो लिप्स को बड़ा बनाने के लिए हज़ारों उपाय मिलेंगे, जो यह साबित कर देंगे कि इन्हें आज़माने के बाद आपको इंजेक्शन्स और सर्जरी की ज़रूरत नहीं होगी। ऐसा ही एक उपाय है दालचीनी को होठों पर लगाकर रगड़ना। आपके होठों की स्किन बहुत पतली होती है और उस पर दालचीनी रगड़ने से स्किन को नुक़सान हो सकता है। कई लोगों को तो दालचीनी से ऐलर्जी भी होती है। इसलिए ऐसी रिस्क न लें।

 

04. स्किन व्हाइटनिंग के लिए सोडा का इस्तेमाल

04. स्किन व्हाइटनिंग के लिए सोडा का इस्तेमाल

माना कि बेकिंग सोडा में ऐसे गुण होते हैं कि यह टेम्प्रेरी स्किन को ब्राइट कर देती है, लेकिन साथ ही इससे स्किन का नैचुरल पीएच लेवल भी प्रभावित होता है। यह स्किन का नैचुरल ऑयल चुरा लेता है और स्किन को बहत ड्राय बना देता है। इसलिए इससे दूर रहें।

 

05. फ़ेस पर वैक्सिंग करना

05. फ़ेस पर वैक्सिंग करना

चेहरे पर वैक्सिंग करनी है तो पार्लर जाएं, घर पर यह ट्राय न करें। जी हां, यदि आप आप वैक्सिंग करना चाहती हैं तो सिर्फ स्किन के बाल हटाने के लिए करें और वो भी ब्यूटीशियन से। यदि आप स्किन प्रॉब्लम्स , जैसे- व्हाइट हेड्स, डेड स्किन या टैनिंग के लिए वैक्स करवा रही हैं तो हम आपको इसकी सलाह बिलकुल नहीं देंगे, क्योंकि इससे आपकी स्किन को नुक़सान पहुंच सकता है।