यदि आप चाहें तो भी इस बात को याद नहीं कर पाएंगी कि आपने अपने बालों को सेहतमंद बनाने के लिए कितनी बार हेयर ऑयल या हॉट ऑयल मसाज की/करवाई है. यह मालिश बालों के लिए ही नहीं, बल्कि आपके मूड के लिए भी बहुत अच्छी होती है! सिर में कुछ मिनट की तेल-मालिश से स्कैल्प और बाल सेहतमंद होते हैं, अच्छी नींद आती है, बालों में चमक आती है. पर क्या आप जानती हैं कि हेयर ऑयल का ज़्यादा से ज़यादा फ़ायदा तब होता है, जब आप अपने बालों के अनुरूप हेयर ऑयल का चुनाव करती हैं. तो हमने आपके लिए एक गाइड बनाई है, जिसे पढ़ने के बाद आप अपने बालों के अनुसार हेयर ऑयल चुनने में महारथ हासिल कर लेंगी और आपके बाल और भी ख़ूबसूरत नज़र आएंगे.

घुंघराले बाल
 

घुंघराले बाल

यदि आपके बाल घने और घुंघराले हैं तो हमारी सलाह है कि आप आमंड ऑयल यानी बादाम के तेल का इस्तेमाल करें. विटामिन A, B, E और ओमेगा-3 फ़ैटी ऐसिड्स से भरपूर यह तेल थोड़ा गाढ़ा भी होता है. इससे आपके बालों को पोषण मिलेगा, जड़ें मज़बूत होंगी और फ्रिज़ मुलायम होंगे. यह आपके बालों के स्वाभाविक घुंघराले टेक्स्चर को बरक़रार भी रखेगा.

पतले बाल
 

पतले बाल

पतले बालों में तेल लगाने में समस्या यह है कि वे तुरंत ही चिपचिपे और चिपके हुए नज़र आने लगते हैं. लेकिन यदि सही तेल का चुनाव किया जाए, जैसे- रोज़ ऑयल और आर्गन ऑयल तो पतले बालों में भी अच्छी तरह तेल लगाया जा सकता है. रोज़ ऑयल बहुत ही हल्का होता है और पतले बालों पर अच्छी तरह लगने के बाद भी उन्हें दबा या चिपका हुआ नहीं दिखाता. यह फ्रिज़ दूर करता है और बालों को सेहतभरी चमक देता है. आर्गन ऑयल तो परिचय का मोहताज है ही नहीं. इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन E होता है और यह चिपचिपा नहीं होता. अत: यह बालों को बिना चिपका हुआ बनाए बहुत ही अच्छी तरह मॉइस्चराइज़ करता है.

रूखे बाल
 

रूखे बाल

आपके बाल सीधे हों या लहरदार या फिर घुंघराले कई बार ये भीतर से रूखे यानी ड्राइ होते हैं. इस रूखेपन को दूर करने के लिए जैतून का तेल यानी ऑलिव ऑयल या फिर ग्रेपसीड ऑयल यानी अंगूर के बीजों का तेल इस्तेमाल करें. भूमध्यसागरीय इलाक़ों का पसंदीदा तेल ऑलिव ऑयल ऐंटीऑक्सिडेंट्स और विटामिन्स से भरपूर होता है. बालों में लगाने पर यह न सिर्फ़ बालों में मौजूद मॉइस्चर को बालों के भीतर सील कर देता है, बल्कि उस केराटिन कॉन्टेंट को भी सुरक्षा देता है, जो इस तरह के बालों के लिए बहुत ज़रूरी होता है. ग्रेपसीड ऑयल भी रूखेपन को हटाने का बेहतरीन विकल्प है. इसमें विटामिन E होता है, जो क्षतिग्रस्त बालों की मरम्मत करता है और बालों को टूटने से रोकता है. तो अब आपको पता चल गया न कि आपको सिर की मालिश किस तेल से करनी है?

घने बाल
 

घने बाल

जहां बहुत से लोग यह मान लेते हैं कि घने बालों में कोई समस्या होती ही नहीं है, वहीं सच्चाई यह है कि यह सोच बिल्कुल ग़लत है. घने बालों वाली महिलाओं के लिए अपने बालों को जड़ से सिरों तक मज़बूत बनाए रखना किसी चुनौती से कम नहीं. इन्हें हम नारियल का तेल लगाने की सलाह देंगे. इसमें पोषक तत्वों और ऐंटी-फ़ंगल एजेंट्स की अधिकता होती है, जो बालों को मुलायम बनाते हैं और स्कैल्प को गहराई तक जाकर पोषण देते हैं. बालों से संबंधित अधिकतर समस्याओं के लिए आप इंदुलेखा ब्रिंगा ऑयल/Indulekha Bringha Oil का भी चुनाव कर सकती हैं. इसका फ़ार्मूला आयुर्वेदिक सामग्रियों, जैसे-नीम, ऐलोवेरा और आंवला को नारियल के तेल के साथ मिलाकर तैयार किया गया है. यह सेल्फ़ ऐप्लिकेटर के साथ आता है और यह ऑयल आपके स्कैल्प को हेल्दी रखने के साथ-साथ नए बालों के उगने में भी सहायक होता है

लहरदार बाल
 

लहरदार बाल

ऐसी महिलाएं जिनके बालों में स्वाभाविक रूप से हल्की लहरें यानी वेव्स होती हैं, उन्हें हम कैस्टर ऑयल यानी अरंडी के तेल और जोजोबा ऑयल लगाने की सलाह देंगे. कैस्टर ऑयल बालों के मॉइस्चराइज़ को उनके भीतर ही रोके रखने और बालों की मोटाई को बढ़ाने में बहुत ही कारगर है. यह बालों से फ्रिज़ को हटा देता है और बालों के वेवी टेक्स्चर को चिकना करता है. जोजोबा ऑयल का गाढ़ापन स्कैल्प से स्रवित होने वाले प्राकृतिक सीबम के जैसा होता है. इससे आपके बाल हाइड्रेटेड रहते हैं और बहुत तैलीय हुए बिना ही संवारने में आसान हो जाते हैं. तभी तो आपको मिलते हैं आकर्षक वेवी बाल!