रूसी यानी डैंड्रफ़ एक तरह से बालों में मौजूद ऐसे शैतान हैं, जो आपके बालों से कभी-भी और कहीं भी झांकने लगते हैं. गहरे और काले रंग के कपड़ों पर इसके फ़्लेक्स बहुत ही ख़राब नज़र आते हैं. और फिर ये अकेले ही नहीं आते, अपने साथ स्कैल्प पर खुजली भी लाते हैं. डैंड्रफ बालों में होने वाली एक आम समस्या है और दुनिया के आधे वयस्क परेशान हैं, फिर इस बात से कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता कि वो पुरुष हैं या महिलाएं और चाहे उनकी उम्र कितनी ही क्यों न हो.

डैंड्रफ़, मैलासेज़िआ नामक एक फ़ंगस के कारण होता है, जो स्कैल्प पर मौजूद सीबम पर पलता है और इसे ऐसे फ़ैट ऐसिड्स में बदल देता है, जो संवेदनशील यानी सेंसिटिव स्कैल्प में जलन पैदा करता है. यही स्कैल्प में रूखेपन और खुजली का कारण भी है और अंतत: इसी की वजह से स्कैल्प पर त्वचा की मृत कोशिकाएं यानी डेड स्किन सेल्स इकट्ठा होती जाती हैं, जो फ़्लेक्स के रूप में नज़र आती हैं. यह सब सुनने में ही डरावना लगता है, है ना? पर आप चिंता मत कीजिए, क्योंकि हम आपकी मदद के लिए जो मौजूद हैं! और डैंड्रफ़ से छुटकारा पाने के लिए आपको केवल अपने किचन का रुख़ करना है.

डैंड्रफ़ से छुटकारा पाने के बहुत सारे घरेलू उपाय हैं और हम आपको यहां उन्हीं के बारे में बता रहे हैं:

टी ट्री ऑइल
 

टी ट्री ऑइल

शक्तिशाली ऐंटीमाइक्रोबिअल और ऐंटी-इन्फ़्लैमटॉरी गुणों से भरपूर टी ट्री ऑइल डैंड्रफ़ का कारगर इलाज करता है. पुराने समय में टी ट्री का इस्तेमाल मुहांसो और सोरायसिस के इलाज में बहुतायत से किया जाता था, क्योंकि इसमें बहुत सारे चिकित्सकीय गुण होते हैं. आपको बता दें कि सामान्य शैम्पू की तुलना में टी ट्री ऑइल वाले शैम्पू बालों के लिए ज़्यादा अच्छे होते हैं.

बीब्यूटिफ़ुल टिप: अपने शैम्पू में कुछ बूंद टी ट्री ऑइल डाल कर अच्छे से मिलाएं. अब इस मिश्रण को बालों पर लगाएं. पांच मिनट तक लगा रहने दें और फिर ठंडे पानी से बाल धो लें.

ऐप्पल साइडर विनेगर

जब घर पर ही डैंड्रफ़ हटाने की बात हो तो आप ऐप्पल साइडर विनेगर पर पूरी तरह भरोसा कर सकती हैं. यह ऐंटीफ़ंगल और ऐंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है और आपके स्कैल्प की सेहत को सुधारने के लिए बेहतरीन है. विनेगर डैंड्रफ पैदा करने वाले फ़ंगस को हटता है और रूसी की समस्या को प्रभावी रूप से कम करता है. कई बार स्कैल्प के पीएच में असंतुलन भी डैंड्रफ का कारण होता है. ऐप्पल साइडर विनेगर के ऐंटी-इन्फ़्लैमटॉरी गुण स्कैल्प पर होने वाली जलन और सूजन से छुटकारा दिलाते हैं, जिससे डैंड्रफ़ की वजह से स्कैल्प पर होने वाली खुजली में तुरंत ही राहत मिलती है.

बीब्यूटिफ़ुल टिप: एक बोल में ऐप्पल साइड विनेगर और पानी की बराबर मात्रा मिलाएं. अपने बालों को शैम्पू से धोने के बाद इस मिश्रण को स्कैल्प पर डालें और पूरे बालों में लगाएं. इसे 15 मिनट तक लगा रहने दें और फिर बालों को पानी से धो लें.

मेथी दाने
 

मेथी दाने

रूसी से बचाने में मेथी के दाने भी बहुत कारगर हैं. ऐंटीबैक्टीरियल और ऐंटफ़ंगल गुणों से भरपूर मेथी दाने आपको डैंड्रफ़ से राहत ज़रूर दिलाएंगे. मेथी दानों में प्रोटीन, विटामिन C, आयरन, पोटैशियम, निकोटिनिक ऐसिड और लेसिथिन की प्रचुर मात्रा होती है अत: बालों को इसके इस्तेमाल से बहुत फ़ायदा पहुंचता है.

बीब्यूटिफ़ुल टिप: थोड़े मेथी दानों को एक बोल में डालें. इन्हें रातभर पानी में भीगने दें. सुबह पानी निथार कर बीजों को अच्छी तरह पीस कर पेस्ट बना लें. इस पेस्ट को अपने स्कैल्प व बालों पर लगाएं. इसे 30 मिनट तक लगा रहने दें और फिर बालों को सौम्य शैम्पू व कंडिशनर की सहायता से धो लें.

बेकिंग सोडा
 

बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा हल्के एक्स्फ़ॉलिएंट की तरह काम करता है, जिससे आपको डेड स्किन सेल्स से छुटकारा मिलता है. यह स्कैल्प पर मौजूद अतिरिक्त ऑइल को भी कम करता है, जिससे स्कैल्प में ताज़गी बनी रहती है. हालांकि इसके इस्तेमाल से कुछ समय तक आपको बाल रूखे महसूस हो सकते हैं, पर इस रूखेपन को हटाने के लिए दो सप्ताह के भीतर आपका स्कैल्प अपने आप ही नैचुरल ऑइल्स का उत्पादन करने लगता है. बेकिंग सोडा अतिसक्रिय फ़ंगस, जो डैंड्रफ़ पैदा कर सकती है, को कम करने का काम करता है.

बीब्यूटिफ़ुल टिप: अपने बालों को गीला करें और स्कैल्प व बालों पर बेकिंग सोडा मलें. इसे एक मिनट तक लगा रहने दें और फिर बालों को पानी से अच्छी तरह धो लें. आप इसे शैम्पू में मिला कर इस मिश्रण को भी बाल धोने के लिए इस्तेमाल कर सकती हैं.

नींबू का रस
 

नींबू का रस

नींबू का रस तो डैंड्रफ़ से निजात पाने का जांचा-परखा तरीक़ा है. सिट्रिक ऐसिड से भरपूर नींबू का रस डैंड्रफ़ को बालों की जड़ों और हेयर फ़ॉलिकल्स तक जा कर समाप्त करता है. इसके ऐंटीमाइक्रोबिअल गुण डैंड्रफ़ को पैदा करने वाले फ़ंगस का ख़ात्मा करते हैं और बालों का झड़ना भी कम करते हैं. इससे आपके बाल घने और मज़बूत हो जाते हैं.

बीब्यूटिफ़ुल टिप: एक बोल में थोड़ा दही लें और इसमें नींबू का रस डालें. इस मिश्रण को अच्छी तरह मिलाएं. अब इसे अपने बालों और स्कैल्प पर लगा कर अपन उंगलियों से अच्छी तरह मालिश करें. इसे 10 मिनट तक लगा रहने दें. अब शैम्पू और कंडिशनर का इस्तेमाल करते हुए बाल धो लें.

मुल्तानी मिट्टी
 

मुल्तानी मिट्टी

हम सभी मुल्तानी मिट्टी से परिचित हैं और जानते हैं कि यह हमारी त्वचा के लिए कितनी फ़ायदेमंद है. पर क्या आपको पता था कि यह बालों से डैंड्रफ़ दूर करने के भी काम आती है? मुल्तानी मिट्टी स्कैल्प पर मौजूद तेल, चिकनाई और गंदगी को अवशोषित कर लेती है, जो डैंड्रफ़ के बढ़ने का असली कारण है. यह स्कैल्प पर रक्त के प्रवाह को बढ़ाती है और स्कैल्प को साफ़ और डैंड्रफ़ से मुक्त बनाए रखती है.

बीब्यूटिफ़ुल टिप: एक बोल में मुल्तानी मिट्टी लें. इसमें पर्याप्त मात्रा में पानी मिला कर पेस्ट बना लें. अब इसमें थोड़ा सा नींबू का रस डालें और इस मिश्रण को स्कैल्प पर अच्छी तरह लगा लें. इसे 20 मिनट तक लगा रहने दें. इसके बाद बालों को पानी से धो लें.  

ऑलिव ऑइल
 

ऑलिव ऑइल

हम सभी को ऑलिव ऑइल के नमी पहुंचाने वाले गुणों के बारे में पता है और इसका यही गुण हमारे स्कैल्प से डैंड्रफ़ को हटाने में कारगर है. ऑलिव ऑइल हमारे स्कैल्प पर मौजूद रूखे हिस्सों यानी ड्राइ पैचेस को नम बनाता है, जिससे स्कैल्प पर पपड़ी नहीं बनती. वहीं ऑलिव ऑइल से मसाज करने पर कड़े हो चुके डैंड्रफ़ के फ़्लेक्स नरम हो कर स्कैल्प से निकल जाते हैं और स्कैल्प सेहतमंद व साफ़-सुथरा हो जाता है

बीब्यूटिफ़ुल टिप: अपने स्कैल्प पर ऑलिव ऑइल लगाएं. अब सौम्यता से स्कैल्प की मालिश करें. मालिश करने के बाद 10 मिनट तक तेल बालों में लगा रहने दें. फिर शैम्पू कर लें.