मुहांसों के लिए संवेदनशील त्वचा के लिए बाज़ार में फ़ेशियल ऑइल्स अमूमन नहीं दिखाई देते, क्योंकि यह मान्यता है कि पहले ही बहुत सक्रिय तेल ग्रंथियों (ऑइल ग्लैंड्स) वाली त्वचा पर अतिरिक्त ऑइल लगाने की ज़रूरत नहीं होती. लेकिन हम जो राज़ की बात बताने जा रहे हैं, वह किसी और ने आपको नहीं बताई होगी- सभी ऑइल्स मुहांसों के लिए ज़िम्मेदार नहीं होते. तो वो कौन-से नायाब तेल हैं, जो मुहांसों के लिए संवेदनशील त्वचा पर भी लगाए जा सकते हैं? यही तो हम बता रहे हैं...

जोजोबा ऑइल

आर्गन ऑइल

रोज़हिप ऑइल

टी-ट्री ऑइल

जोजोबा ऑइल
 

जोजोबा ऑइल

जोजोबा ऑइल का टेक्स्चर हल्का होता है और यह त्वचा में तुरंत समाहित हो जाता है. अपनी त्वचा की देखभाल के रूटीन में जोजोबा ऑइल को शामिल करें, क्योंकि यह त्वचा से जुड़ी कई समस्याओं से निजात दिलाता है, जैसे-मुहांसे, सोराइसिस, दाने और फुंसियां आदि. त्वचा को साफ़ करें. जोजोबा ऑइल की कुछ बूंदें अपने हाथों में लें और सुबह सो कर उठने के बाद या रात को सोने जाने से पहले इससे चेहरे पर मालिश करें. कुछ ही दिनों में आपको अपने चेहरे पर इसका असर साफ़ नज़र आएगा.

आर्गन ऑइल
 

आर्गन ऑइल

लिक्वड गोल्ड या आर्गन ऑइल हर तरह की त्वचा को ढेर सारे फ़ायदे पहुंचाने के लिए जाना जाता है. इस तेल में विटामिन E मौजूद होता है, जो त्वचा की क्षतिग्रस्त कोशिकाओं की मरम्मत करता है. यह सीबम के उत्पादन को नियमित करता है और त्वचा के रोमछिद्रों को बंद नहीं होने देता. ये तो आप जानती ही होंगी कि त्वचा के रोमछिद्रों का बंद हो जाना ही मुहांसों का कारण होता है. हम आपको लैक्मे ऐब्सलूट आर्गन ऑइल रेडिअन्स ओवरनाइट ऑइल-इन-सीरम/  Lakme Absolute Argan Oil Radiance Overnight Oil-in-Serum लगाने की सलाह देंगें. यह त्वचा में बड़ी आसानी से समाहित हो जाता है और उसे पोषण देता है. आप अगली सुबह अपनी त्वचा को पहले से कहीं ज़्यादा दमकता हुआ पाएंगी.

रोज़हिप ऑइल
 

रोज़हिप ऑइल

सीबकथॉर्न से भरपूर रोज़हिप ऑइल को प्राकृतिक सुपर हीलर की तरह भी जाना जाता है. जब नियमित रूप से इसका इस्तेमाल किया जात है तो यह ऑइल त्वचा की रंगत को निखारता है और मुहांसों की वजह से चेहरे पर पड़े दाग़-धब्बों को हटाता है. यह त्वचा को जवां बनाता है और सूरज की यूवी किरणों से होने वाले नुक़सान को कम करने में भी मददगार है.

टी-ट्री ऑइल
 

टी-ट्री ऑइल

ऐंटी-बैक्टरियल गुणों से भरपूर टी-ट्री ऑइल चेहरे पर मौजूद कीटाणुओं का सफ़ाया करता है और इस तरह से यह मुहांसों को होने से भी रोकता है. यह त्वचा के रोमछिद्रों में गहराई तक समाहित हो कर उन्हें साफ़ करता है और इन्फ़ेक्शन रोकता है. इसकी कुछ बूंदे अपने रोज़ाना इस्तेमाल करने वाले मॉइस्चराइज़र में या फ़ेशियल स्टीम वॉटर में मिलाएं और इसका कमाल ख़ुद देखें.