क्या मुझे हर कुछ महीनों के बाद अपना शैम्पू बदलना चाहिए? आपके इस सवाल का जवाब स्ट्रेटफोरवर्ड नहीं है। ऐसा कहा जाता है कि यदि आप एक ही तरह के शैम्पू यूज़ करने के आदि हैं तो कुछ समय बात उसका बालों पर वो असर नहीं रहता। जबकि सच तो ये है कि यदि आपके बालों पर कोई फर्क नज़र नहीं आ रहा है तो इसका कारण वह शैम्पू बिल्कुल नहीं है। कारण है मौसम का बदलना या फिर प्रोडक्ट का बिल्डअप होना, जिसके कारण एक ही प्रोडक्ट को ज़्यादा समय तक यूज़ करने से बालों की क्वालिटी प्रभावित होने लगती है।

कहने का मतलब है कि आपको हर कुछ महीनों के बाद अपने हेयर केयर रूटीन पर ध्यान देना चाहिए, ताकि आपके बालों को नया जीवन मिल सके। होता यह है कि आपकी लाइफस्टाइल और मौसम के बदलाव के अनुसार आपके बाल प्रोडक्ट को रिस्पोंड करते हैं। चूंकि हम एक ही प्रोडक्ट लंबे समय तक यूज़ करते हैं, जबकि बाहरी कई फ़ैक्टर्स हमारे बालों को प्रभावित करते रहते हैं, ऐसे में ज़रूरी नहीं कि हर बार प्रोडक्ट से बालों को उतना ही असर पड़े। लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि जैसे ही आपको लगे कि आपके बाल खराब हो रहे हैं आप शैम्पू बदल दें। इसकी जगह आप अपने हेयर केयर रूटीन में बदलाव लाएं तो ज़्यादा बेहतर होगा।

 

01. बालों को साफ करने के लिए क्लैरिफ़ाइंग शैम्पू यूज़ करें

01. बालों को साफ करने के लिए क्लैरिफ़ाइंग शैम्पू यूज़ करें

आपके बाल प्रोडक्ट को रिस्पोंड करना बंद कर देते हैं, इसका सबसे बड़ा कारण है कि पर्यावरण और स्कैल्प के कारण बालों में जमी गंदगी। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि सल्फेट फ्री शैम्पू आपके स्कैल्प को पूरी तरह से साफ नहीं कर पाते हैं या फिर आप शैम्पू करने के बाद उन्हें अच्छी तरह पानी से धोते नहीं हैं और शैम्पू पूरी तरह से बालों से निकाल नहीं पाता है। इसके लिए हफ़्ते में दो बार क्लैरिफाईंग शैम्पू से बाल धोएं, ताकि आपके बाल अच्छी तरह साफ हो जाएं।

बीबी सलाह: Dove Environmental Defence Shampoo

 

02. मौसम की कंडीशन को भी ध्यान में रखें

02. मौसम की कंडीशन को भी ध्यान में रखें

आप जहां रहते हैं वहां के मौसम के बदलाव पर भी ध्यान दें। सर्दियों के मौसम में बहुत ज़्यादा रूखापन इशारा है इस बात का कि आपको ज़रूरत है एक मोइश्चराइज़िंग शैम्पू को अपने रूटीन में शामिल करने की। इसी तरह यदि आप ऐसी जगह रहते हैं, जहां मौसम में ह्यूमिडीटी ज़्यादा है, जैसे कि मुंबई या चेन्नई, तो आपको ज़रूरत है फ्रिज़्ज कंट्रोल शैम्पू को अपने हेयर केयर रूटीन में शामिल करने की।

बीबी सलाह: Tresemme Climate Protection Shampoo

 

03. लाइफस्टाइल में बदलाव

03. लाइफस्टाइल में बदलाव

हेयर केयर रूटीन सेट करने के पहले ये भी ध्यान में रखें कि आपका लाइफस्टाइल क्या है। यदि आप उन लोगों में से हैं, जिन्हें अक्सर घर से बाहर जाना पड़ता है और प्रदूषण का सामना करना पड़ता है, तो शैम्पू भी इसी अनुसार चुनें। वर्कआउट हैबिट्स भी इसमें एक बड़ी भूमिका निभाती है। जो स्विमिंग करते हैं उनका रूटीन रनिंग करने वालों से अलग होगा। लाइफस्टाइल में ये भी शामिल होता है कि आपको कितनी बार अपने बालों को हीट स्टाइलिंग करने की ज़रूरत होती है, यानी आपको ज़रूरत है डैमेज रिपेयर सिस्टम की, जो आपके बालों को नुकसान से बचाए और उन्हें रिपेयर भी करे।

बीबी सलाह: TIGI Bed Head Urban Anti-Dote Recovery Level 2 Shampoo

 

04. आपके बाल आपकी डायट पर भी निर्भर करते हैं

04. आपके बाल आपकी डायट पर भी निर्भर करते हैं

जैसा कि कहा जाता है जो आप खाते हैं वो आपकी सेहत से नज़र आता है। आपकी डायट का आपके बालों की सेहत पर बहुत असर होता है। आपको ऐसे शैम्पू की ज़रूरत है, जो वो पोषण दे जो आपको डायट से नहीं मिल पा रहा है। प्रोडक्ट चुनने के पहले अपनी हेल्थ को भी मद्देनज़र रखें। जैसे कि हार्मोन्स में उतार-चढ़ाव होने से आपका स्कैल्प चिपचिपा हो सकता है। ऐसे में आपको ऐसे प्रोडक्ट की ज़रूरत है, जो स्कैल्प का चिपचिपापन दूर करे।

बीबी सलाह: Love Beauty & Planet Tea Tree and Vetiver Aroma Radical Refresher Shampoo