छुट्टियों में सबसे ज़्यादा संतोषजनक बात यही होती है ना कि होटेल में मिलने वाली टॉयलेटरीज़ की छोटी-छोटी बॉटल उठा लाना और घर आ कर उनका इस्तेमाल करना. ये ग्लानि से भरी ख़ुशी है, है ना? आप इन सभी का इस्तेमाल कर के ख़ुद को ट्रीट दे सकती हैं, पर हम आपको इस बात की ताक़ीद ज़रूर करेंगे कि साबुन की उस चौकोर बट्टी का इस्तेमाल चेहरे पर बिल्कुल न करें. क्या आपने कभी ध्यान दिया है कि होटल में फ़ेस वॉश कभी-भी नहीं दिया जाता है इसलिए हम आपको सुझाव देंगे कि आप जब भी ट्रैवल करें, अपने साथ अपना फ़ेस वॉश ले कर चलें.

साबुन अक्सर, यदि आप उन्हें ध्यान से न चुनें, आपकी त्वचा पर सौम्य नहीं होते. यहां हम आपको कुछ कारण बता रहे हैं कि क्यों आपको साबुन का इस्तेमाल चेहरे पर नहीं करना चाहिए...

त्वचा ऐसिडिक होती है और साबुन ऐल्कलाइन
 

# त्वचा ऐसिडिक होती है और साबुन ऐल्कलाइन

त्वचा का पीएच स्तर 4 से 6.5 के बीच कहीं होता है, जबकि आपके साबुन का पीएच स्तर पीएच स्पेक्ट्रम के ऐल्कलाइन स्तर के क़रीब कहीं होता है. अत: जब तक आपको साबुन के पीएच बैलेंस के बारे में सही तरह से पता न हो, चेहरे पर साबुन के इस्तेमाल से बचें. यदि आप साबुन को अलविदा कहने का बिल्कुल भी मन नहीं बना पा रही हैं तो सौम्य साबुन का इस्तेमाल करें, जैसे- डव आमंड क्रीम ब्यूटी बेदिंग बार/ Dove Almond Cream Beauty Bathing Bar..

साबुन त्वचा को रूखा बनाते हैं
 

# साबुन त्वचा को रूखा बनाते हैं

यह बात आपको आश्चर्य से भरी तो बिल्कुल नहीं लगनी चाहिए कि साबुन आपकी त्वचा को रूखा यानी ड्राइ बना देते हैं. साबुन में मौजूद इन्ग्रीडिएंट्स के लिए आपके चेहरे की त्वचा नाज़ुक और संवेदनशील होती है अत: बेहतर होगा कि आप इसका चेहरे पर इस्तेमाल बंद ही कर दें, भले ही आपकी त्वचा ऑइली क्यों न हो. इसकी बजाय ख़ासतौर पर ऑइली त्वचा के लिए बनाए गए फ़ेस वॉश या स्क्रब का इस्तेमाल करें, जैसे- सेंट इव्स फ्रेश स्किन ऐप्रिकॉट फ़ेस स्क्रब/ St. Ives Fresh Skin Apricot Face Scrub. यह आपके चेहरे पर जमी गंदगी और ऑइल को चेहरे के पीएच स्तर पर कोई प्रभाव छोड़े बिना या फिर चेहरे के प्राकृतिक ऑइल की पर्तों को कोई नुक़सान पहुंचाए बिना निकाल देगा.

साबुन आपकी त्वचा की गुणवत्ता को नुक़सान पहुंचाते हैं
 

# साबुन आपकी त्वचा की गुणवत्ता को नुक़सान पहुंचाते हैं

फ़ेस वॉश अलग-अलग प्रकार की त्वचा की ज़रूरत के हिसाब से ढेर सारे ऐसे फ़ायदेमंद इन्ग्रीडिएंट्स का इस्तेमाल कर के बनाए जाते हैं, जो आपकी त्वचा को उसकी आवश्यकता के अनुसार फ़ायदा पहुंचाएं. पर साबुन इस तरह से नहीं बनाए जाते. वे आपके शरीर की सफ़ाई के लिए अच्छे होते हैं, पर चेहरे के लिए नहीं, क्योंकि उन्हें बनाने का प्राथमिक उद्देश्य केवल त्वचा को साफ़ करना है, उसे पोषण देना नहीं. बात फ़ेस वॉश की करें तो हमें लैक्मे ब्लश ऐंड ग्लो फ़ेस वॉश/ Lakmé Blush and Glow face washes की पूरी रेंज ही बहुत पसंद है. ये अलग-अलग तरह की त्वचा और उनकी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए फलों के कई प्रकारों में उपलब्ध है.