अगर हम ईमानदारी की बात करें तो त्वचा की देखभाल करना एक फ़ुल टाइम जॉब जैसा है. अपनी त्वचा के प्रकार को समझते हुए उसके अनुसार उसकी देखभाल बहुत ही मेहनत का काम है. बरसात में चिपचिपी गरमी और वातावरण की नमी की वजह से त्वचा की देखभाल करना और भी मुश्क़िल हो जाता है. पर आप चिंता न करें, हम यहां ऑयली स्किन की देखभाल के तरीक़े खोज लाए हैं, जो बरसात के इस मौसम में आपके बड़े काम आनेवाले हैं.
choosing right skin care routine for oily skin

सही रूटीन का पालन करें

जब बात ऑयली स्किन की देखभाल की आती है, तब सही स्किन केयर रूटीन का चुनाव सबसे ज़रूरी होता है. चेहरे को साफ़ करने के बाद अपने चेहरे को लैक्मे एब्सल्यूट पोर फ़िक्स टोनर से टोन करें. इसका अल्कोहल-फ्री फ़ॉर्मूला विच हेज़ल की ख़ूबियों से भरा है जो रोमछिद्रों को टाइट करता है, जिससे सीबम का प्रोडक्शन कम होता है. मॉइस्चराइज़र के लिए वॉटर बेस्ड प्रॉडक्ट का इस्तेमाल करें, इससे आपकी त्वचा को पोषण मिलता है. हम आपको लैक्मे अब्सल्यूट स्किन ग्लॉस जेल क्रीम की सलाह देते हैं. ग्लेशियल वॉटर से बना यह मॉइस्चराइज़र मिनरल्स से भरपूर है. यह आपके चेहरे को सौम्यता से मॉइस्चराइज़ करके आपको तरोताज़ा बनाता है.

चेहरे के एक्स्ट्रा ऑयल को झटपट दूर करे

अगर दोपहर तक आपका चेहरा ग्रीसी हो जाता तो एक स्किन केयर नुस्ख़ा आपके काम आ सकता है और वह नुस्ख़ा है ब्लोटिंग शीट का इस्तेमाल. आप मेकअप कर रही हों या नहीं, अपने गालों, माथे और ठुड्डी पर पर ब्लोटिंग शीट से थपथपाएं. इससे त्वचा का अतिरिक्त तेल निकल जाता है. इस तरह आप एक मिनट से कम समय में मैट स्किन पा सकती हैं.

vaseline intensive care aloe soothe body lotion

अपने शरीर को न भूलें

अगर आपकी त्वचा ऑयली है तो केवल चेहरे पर ध्यान देकर बात नहीं बननेवाली है. ऑयली त्वचा होने का कारण यह है कि आपकी त्वचा कुछ ज़्यादा ही रूखी होती है तो उसे बैलेंस करने के लिए शरीर एक्स्ट्रा सीबम का प्रोडक्शन करता है. ऐसा न हो इसलिए मॉनसून में भी अपनी त्वचा को मॉइस्चराइज़ करें. इसके लिए आप वैसलीन इन्टेंसिव केयर एलो स्मूद बॉडी लोशन का इस्तेमाल करें. यह आपको मल्टी-लेवल मॉइस्चराइज़ेशन प्रदान करता है. यह त्वचा में गहरे जाता है, स्किन को गहराई तक मॉइस्चराइज़ करता है. इसका एलो वेरा एक्स्ट्रैक्ट त्वचा को मुलायम बनाता है.

टी बैग काम आएगा

जी हां, आपने सही पढ़ा, टी बैग! इस्तेमाल के बचे टी बैग, चाहे ग्रीन टी हो या ब्लैक, उसे डस्टबिन के हवाले न करें. बजाय इसके यूज़्ड टी बैग को चेहरे के सबसे ऑयली एरिया पर रखें. 20 मिनट तक रहने दें और उसके बाद हटाकर दूसरी जगह रख दें. चाय के अंदर टैनीन होता है, जो पोर्स को छोटा करता है और इस तरह सीबम का उत्पादन कम होता है. यह त्वचा को तैलीय होने से रोकने का एक प्राकृतिक तरीक़ा है.

ponds white beauty bb fairness cream

हल्का मेकअप करें

आपकी त्वचा को मेकअप की ज़रूरत है, पर इस बात से डर रही हैं कि इससे त्वचा और ज़्यादा चिपचिपी हो जाएगी तो आप पॉन्ड्स वाइट ब्यूटी बीबी+ फ़ेयरनेस क्रीम का चुनाव करें. इसका जेन वाइट कवर फ़ॉर्मूला अच्छा कवरेज देने का साथ ही चेहरे को मॉइस्चराइज़ भी करता है. इतना ही नहीं इस क्रीम से काले धब्बे हल्के होते हैं, जिससे चेहरे पर चमक आ जाती है. तो अगर आप नैचुरल ब्यूटी लुक चाहती हैं तो इसे आज़मा सकती हैं.

घरेलू नुस्ख़ों पर करें भरोसा

त्वचा की देखभाल के लिए घरेलू नुस्ख़ों से बढ़कर भला और क्या हो सकता है! आप फ़ेस मास्क बनाएं, जो त्वचा के चिपचिपेपन को प्राकृतिक रूप से दूर करता है. इसके लिए 3 टेबलस्पून ऑरेंज पील पाउडर, 3 टीस्पून रोज़ वॉटर लें. इन दोनों को ठीक से मिलाकर पेस्ट बना लें और चेहरे और गले पर लगाएं. 30 मिनट के लिए ऐसा ही छोड़ दें और उसके बाद गुनगुने पानी से धो लें. ऑरेंज पील त्वचा से ऑयल खींच लेता है और रोज़ वॉटर से ठंडक मिलती है. आपकी त्वचा तरोताज़ा और ग्रीस-फ्री दिखेगी.