सेंटेला एशियाटिका स्किन केयर का नया मूलमंत्र बनता जा रहा है. ये एक औषधीय जड़ी बूटी है, जो सदियों से चोट, वेंस संबंधी विकारों और यहां तक कि ऐंज़ाइयटी तक के इलाज में इस्तेमाल की जाती रही है. दवा के तौर पर इसका सेवन भी किया जा सकता है या फिर इसे ऊपरी तौर पर लगाया भी जा सकता है. एक दिलचस्प तथ्य है- ऐसा कहा जाता है कि बाघ अपनी चोटों व घावों को ठीक करने के लिए इन पौधों में घूमते हैं. लेकिन ये मात्र दवा ही नहीं है, इसमें सभी के लिए कुछ न कुछ है. इसलिए इस स्किन केयर जड़ी बूटी के बारे में और अधिक जानने की ज़रूरत है.

 

क्या ये सिर्फ़ एक ट्रेंड है या इसमें और भी कुछ है?

क्या ये सिर्फ़ एक ट्रेंड है या इसमें और भी कुछ है?

इसमें बहुत कुछ है. बारहों महीने पाई जानेवाली ये जड़ी बूटी मुख्य रूप से एशिया में पाई जाती है. अगर आप के-ब्यूटी के फ़ैन हैं, तो आपने इसके बारे में सुना होगा. बहुत सारे कोरियाई मॉइश्चराइज़र इस इंग्रेडिएंट से भरे हुए हैं. उन्हें 'सिकाक्रीम्स’ भी कहा जाता है.


सेंटेला एशियाटिका एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के साथ-साथ एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर है. इसमें मैडेकासोसाइड औरएशियाटिकोसाइड नामक दो कंपाउंड होते हैं, जिन्हें त्वचा को शांत यानी सूद करने के लिए जाना जाता. मैडेकासोसाइडएक एंटीऑक्सिडेंट है जो आपकी त्वचा को फ्री रैडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचाता है. यह त्वचा के रूखेपन, लालिमा, खुरदरेपन, सूजन को दूर व सूद करता हैं और त्वचा को बेहतरीन तरीक़े से हाइड्रेट भी करता है. यही कारण है कियह एक्जिमा और सोरायसिस के लक्षणों का भी उपचार कर सकता है. ये रक्त संचार को भी बढ़ाता है जिससे स्किन कोयंग लुक मिलता है, साथ ही ये कोलाजन के निर्माण में भी तेज़ी लाता है जिससे स्किन का लचीलापन बढ़ता है और झुरियां व फ़ाइन लाइंस कम नज़र आती हैं.

शोध के अनुसार, यह सूर्य से होनेवाले स्किन के नुकसान को कम कर सकता है और त्वचा के सुरक्षा देनेवाले तत्वों को बढ़ाता है. और इसमें हीलिंग प्रॉपर्टीज़ भी होती हैं, जो निशान, दाग-धब्बों को रोकता है और त्वचा को मजबूत बनाता है.

ध्यान दें कि ये प्लांट स्किन संबंधी ज़्यादातर समस्याओं का समाधान करता है, जैसे- सेंसिटिव, ड्राई व डल और मैच्योरस्किन.

 

 

आप इस नेचुरल इंग्रेडिएंट को अपने रूटीन में कैसे शामिल कर सकते हैं?

आप इस नेचुरल इंग्रेडिएंट को अपने रूटीन में कैसे शामिल कर सकते हैं?

ये बेहद आसान है. ये इंग्रेडिएंट पहले से ही बहुत से स्किनकेयर प्रोडक्ट्स में मौजूद होता है, जैसे- सीरम्स, बाम, क्लींज़र, टोनर और क्रीम्स. इसलिए आप अपने डेली रूटीन को फ़ॉलो कर सकती हैं, बस प्रोडक्ट ख़रीदने से पहले इंग्रेडिएंट्स कोज़रूर देख लें. सेंटेला एशियाटिका को दिन में या रात में त्वचा पर लगाया जा सकता या फिर आप दोनों वक़्त भी इसे अप्लाई कर सकती हैं.