जैसे ही हमारे चेहरे पर कहीं पिम्पल दिखना शुरू होता है, वह हमारी सारी मानसिक शांति ले उड़ता है और हम इसे तुरंत हटाना चाहते हैं, पर इसे तुरंत हटाने की चाह को रोकने के लिए हमें अच्छी-ख़ासी मशक्कत करनी पड़ती है. हालांकि इसके लिए हमें कई हज़ार बार चेताया गया है फिर भी पिम्पल को छेड़ने और उन्हें फोड़ने का संतोष जैसे हमें किसी और चीज़ में नहीं मिलता. लेकिन ऐसा करने के अपने इरादों को रोकिए और अपनी इस सोच को लगाम दीजिए, क्योंकि मुहांसों को फोड़ना आपकी त्वचा के लिए उससे कहीं ज़्यादा नुक़सानदायक होगा, जितना कि आप सोचती हैं.

तो अब जब आप बनी-संवरी आईने के आगे खड़ी हैं और चेहरे पर आया एक पिम्पल आपको मुंह चिढ़ा रहा है तो घबराइए मत, क्योंकि हमारे पास पिम्पल को रोकने के कई बेहतरीन तरीक़े हैं. और वे बिना केमिकल रहित हैं, घर पर बने हुए हैं. आगे पढ़ें और जानें कि पिम्पल को कैसे रोके...

हालांकि पिम्पल का आना डरावना है, पर इन्हें फोड़ना पिम्पल को होने से रोकने का समाधान क़तई नहीं है. अत: हम आपको यहां कुछ घरेलू उपाय बता रहे हैं, जो आपकी त्वचा को बिना कोई नुक़सान पहुंचाए, आपको ऐसे नतीजे देंगे जो आप पाना चाहते थीं.

ऐलोवेरा
 

ऐलोवेरा

ऐलोवेरा में मौजूद ऐंटीबैक्टीरियल और ऐंटी-इन्फ़्लैमटॉरी गुण मुहांसों के इलाज में कारगर हैं. यह पिम्पल की वजह से होने वाली लालिमा को भी कम करता है.

ऐलोवेरा बेहतरीन मॉइस्चराइज़र की तरह भी काम करता है, ख़ासतौर पर रूखी त्वचा वालों के लिए यह बहुत अच्छा है. यदि आपको मुहांसे होने की समस्या है तो ऐलोवेरा का इस्तेमाल जैसे जादू कर देगा. यह त्वचा पर बैक्टीरिया के जमावड़े को रोक कर मुहांसों के ठीक होने की प्रक्रिया को तेज़ कर देता है.

#पिम्पल को कैसे रोके?
इसके लिए यूं करें ऐलोवेरा का इस्तेमाल

अपने चेहरे को गुनगुने पानी से धोएं. फिर ताज़ी ऐलोवेरा की पत्ती को काटें और इसमें मौजूद जेल को बाहर निकाल लें. इस जेल से अपने चेहरे की सौम्यता से मालिश करें. कुछ समय बाद चेहरे को ठंडे पानी से धो लें.

ऐप्पल साइडर विनेगर
 

ऐप्पल साइडर विनेगर

यह पिम्पल्स की समस्या का एक बहुत अच्छा समाधान है, क्योंकि यह त्वचा की अम्लीयता को पहले जैसा कर देता है. साथ ही यह बैक्टीरिया और त्वचा के इन्फ़ेक्शन्स से लड़ने में भी कारगर है.

ऐप्पल साइडर विनेगर में मौजूद लैक्टिक ऐसिड मुहांसों से होने वाले दाग़-धब्बों को हटाता है और लगातार इस्तेमाल करने पर इन्हें बहुत ही हल्का कर देता है.

#पिम्पल को कैसे रोके?
इसके लिए यूं करे ऐप्पल साइडर विनेगर का इस्तेमाल

ऐप्पल साइडर विनेगर में पानी मिला कर उसे डाइलूट करें. इसमें एक रूई का फाहा यानी कॉटन बॉल भिगोएं और सौम्यता से इसे अपने चेहरे पर लगाएं. इसे पांच मिनट तक अपने चेहरे पर लगा रहने दें और फिर ठंडे पानी से चेहरा धो लें. इस प्रक्रिया को सप्ताह में दो-तीन बार दोहराएं, इससे आपको अच्छे नतीजे मिलेंगे.

शहद
 

शहद

हर भारतीय किचन में सहजता से उपलब्ध शहद में ऐंटी-इन्फ़्लैमटॉरी गुण होते हैं, जो मुहांसों की वजह से होने वाली लालिमा और सूजन से निजात दिलाने में सक्षम हैं.

शहद प्राकृतिक रूप से नमी प्रदान करता है और यह त्वचा की नमी को सुरक्षित बनाए रखने का काम भी करता है. यदि किसी इलाज के चलते आपकी त्वचा में रूखेपन की समस्या हो गई है तो यह इस समस्या को भी दूर करता है.

#पिम्पल को कैसे रोके?
इसके लिए यूं करें शहद का इस्तेमाल

शहद में पानी मिला कर इसे पतला करें और फिर इसमें कॉटन बॉल डुबोएं. इस कॉटन बॉल से अपने चेहरे पर सौम्यता से मालिश करें. अब ठंडे पानी से अपना चेहरा धो लें.

रोज़मैरी ऑयल
 

रोज़मैरी ऑयल

चेहरे पर आई सूजन और लालिमा के लिए रोज़मैरी एक बेहतरीन उपचार है. यह मुहांसों को आने से रोकता भी है. इसमें ऐंटीऑक्स्डेंट, ऐंटीबैक्टीरियल और ऐंटी-इन्फ़्लैमटॉरी गुण के साथ-साथ प्राकृतिक ऐंटिसेप्टिक गुण भी होते हैं, जो आपकी त्वचा को इन्फ़ेक्शन्स से बचाते हैं.

#पिम्पल को कैसे रोके?
इसके लिए यूं करें रोज़मैरी ऑयल का इस्तेमाल

रोज़मैरी ऑयल में नारियल का तेल मिला कर इसे डाइलूट करें और इस मिश्रण को मुहांसों से लड़ने वाले फ़ेस वॉस के रूप में इस्तेमाल करें.

टी ट्री ऑयल
 

टी ट्री ऑयल

टी ट्री ऑयल को कीटाणुओं और जलन व सूजन से निजात दिलाने के लिए जाना जाता है. लंबे इस्तेमाल से टी ट्री ऑयल मुहांसों को भी पनपने से रोकता है.

#पिम्पल को कैसे रोके?
इसके लिए यूं करें टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल

टी ट्री ऑयल में कॉटन बॉल डुबोएं. फिर इसे पिम्पल वाले हिस्से में लगाएं. इससे त्वचा के बंद रोम छिद्र साफ़ हो जाएंगे और ब्लैकहेड्स सूख जाएंगे. कुछ देर बाद आप अपना चेहरा ठंडे पानी से धो लें.