स्किन की कई समस्याएं होती हैं, उनमें से एक है होंठों का फंटना। स्कूल के दिनों में हम क्यूट दिखने के लिए, लिप्स पर लिप बाम लगाया करते थे। बस, यही होता था हमारा होंठों की देखभाल का एकमात्र तरीका। लेकिन देखा जाए तो सिर्फ बाम लगाना ही होंठों की देखभाल का तरीका नहीं है, बल्कि हमें अपनी लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव करने पड़ते हैं, जिससे हमारे होंठ ठीक हो सकते हैं। इसलिए हम आपको यहां बताने जा रहे हैं कि आप किस तरह से अपने होंठ का ख़याल रख सकते हैं। इसके लिए हमें चाहिए, बस एक ही चीज़ और वो है- एलोवेरा, जो होंठ से जुड़ी सारी समस्याओं को सुलझा सकता है। जी हां, एलोवेरा के कई फायदे होते हैं, इतने फायदे हैं कि हम उन्हें गिनते नहीं थकते हैं। अगर आपकी स्किन जल गई है तो उसके उपचार में भी एलो वेरा अच्छा काम करता है, वहीं दूसरी तरफ हाइपरपिग्मेंटेशन की परेशानी में भी यह फ़ायदेमंद होता है। एलो वेरा के पत्तों पर जो वॉटरी और जेल जैसा पदार्थ रहता है, वह बेहद आराम देने वाला, चोट को या जलन को भरने वाला होता है। इसमें जो एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, वो हर तरह की स्किन को फ़ायदा पहुंचाते हैं। और चूंकि शुद्ध एलोवेरा सेंसिटिव स्किन पर भी आसानी से उपयोग हो सकता है, यह आपके लिप्स के लिए भी अच्छा होता है। अब अगर आपको फिर भी विश्वास नहीं हो रहा है तो आइये आपको विस्तार से बताते हैं कि एलोवेरा आपके होंठों को किस तरह से हेल्दी बना सकता है। आप इसे अपने लिप्स पर जेल और बाम के रूप में इस्तेमाल कर सकती हैं।

 

फटे होंठों का रखे ख़याल

फटे होंठों का रखे ख़याल

जब आपको लगे कि आपने अपने फटे होंठों के लिए सारे नुस्खे आज़माकर देख लिए हैं और कोई फ़ायदा नहीं हुआ है, तो यहां हम आपको एक और कमाल का नुस्खा बात रहे हैं। एलोवेरा में पॉलीसैकेराइड और हार्मोन होते हैं, जो सुनने में भले ही आपको काफी भारी-भरकम शब्द लग रहे हों, लेकिन हकीकत में यह आपकी लिप्स के लिए अच्छे होते हैं। पॉलीसैकेराइड एक तरह का कार्बोहाइड्रेट है, जो मॉइस्चर को बरक़रार रखने में मदद करता है। हार्मोन नई सेल्स को बढ़ने में मदद करता है, साथ ही इसमें हीलिंग यानी किसी भी घाव को भरने के गुण होते हैं। और ये दोनों ही कॉम्पोनेन्ट पॉवर कपल की तरह काम करते हैं और आपके लिप्स को हील करते हैं।

 

लिप्स को हाइड्रेटेड रखता है

लिप्स को हाइड्रेटेड रखता है

कभी-कभी ड्राई लिप्स होने की वजह से काफी चिड़चिड़ापन आ जाता है। ऐसे में बार-बार आपकी उंगलियां होंठों पर ही चली जाती हैं। तो हम आपसे बस यह कहना चाहते हैं कि आप जो अपनी उंगलियों से उसे बार-बार छूते हैं, क्यों न उंगलियों में एलोवेरा लगाकर उसे अपने लिप्स में लगा लिया करें। एलो वेरा आस-पास की हवा से वॉटर मॉलिक्यूल्स को लेता है, फिर उसको स्किन के अंदरूनी लेयर्स में डाल देता है। इससे अगर वहां से किसी तरह की ब्लीडिंग हो रही है तो एलोवेरा उसे रोकने का काम भी कर देता है और उसे ठीक करने की कोशिश करता है।

 

लिप्स को पिंकिश बनाता है

लिप्स को पिंकिश बनाता है

हमने अपने लिप्स को पिंक बनाने के लिए शायद सबकुछ ट्राई कर लिया होगा, हमने कई लिप्स स्क्रब्स भी बनाये होंगे। लेकिन हमें कहां पता था कि इसके लिए सही चीज तो प्रकृति के पास हैं ही। है न ? जी हां, एलो वेरा में उच्च मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो आपके लिप्स में ब्लड सर्कुलेशन को ठीक करते हैं। इससे होता यह है कि आपके लिप्स पूरी तरह से गुलाबी और जूसी हो जाते हैं। साथ ही यह हेल्दी और हाइड्रेटेड भी हो जाते हैं। इसके अलावा, इस एंटीऑक्सिडेंट में ठंडक होती है, जो कि लिप्स को पर्यावरण के टॉक्सिक पदार्थ से होने वाले डैमेज से बचा लेती हैं।