जैसे केवल प्रकृति ही हमें महीने में कुछ दर्दभरे दिन देने के लिए काफ़ी नहीं थी जो हर महीने कराए जाने वाले अधिकतर ब्यूटी ट्रीटमेंट्स भी हमें बहुत सारा दर्द दे जाते हैं. फिर बात आइब्रोज़ से हेयर प्लकिंग की हो, ब्लैकहेड्स हटाने की हो या फिर वैक्सिंग की. दर्द का तो जैसे अंत ही नहीं है. पर उन महिलाओं के लिए एक अच्छी ख़बर है, जिन्हें वैक्सिंग के दौरान बहुत दर्द होता है और जिसके चलते वे वैक्सिंग करवाना पसंद ही नहीं करती हैं. ऐसी ही महिलाओं के लिए यहां हम आपको पांच ऐसी ट्रिक्स बता रहे हैं, जो वैक्सिंग के दर्द से उन्हें मुक्ति दिला देंगी. तो आज़माकर ज़रूर देखिएगा...

त्वचा को एक्स्फ़ॉलिएट करें
 

त्वचा को एक्स्फ़ॉलिएट करें

अपने वैक्सिंग सत्र से बेहतरीन नतीजे पाने और दर्द से राहत पाने के लिए वैक्सिंग कराने से पहले त्वचा को एक्स्फ़ॉलिएट करें. इसके लिए सेंट ईव्स रेडिअंट स्किन पिंक लेमन ऐंड मैन्डरिन ऑरेन्ज एक्स्फ़ॉलिएटिंग बॉडी वॉश का इस्तेमाल करें. यह आपकी त्वचा पर जमी मृत कोशिकाओं को हटा देगा और हेयर फ़ॉलिकल्स को एक्स्फ़ॉलिएट करेगा, जिससे वैक्सिंग के दौरान आपको बहुत ही कम दर्द होगा.

शेव न करें
 

शेव न करें

अपने दो वैक्सिंग सेशन्स के बीच ऊग आए छोटे-छोटे बालों से निजात पाने के लिए आप शेविंग करने की इच्छुक हो सकती हैं, लेकिन हम आपको ऐसा न करने की सलाह देंगे. क्योंकि इससे बालों के प्राकृतिक विकास का चक्र यानी नैचुरल ग्रोथ साइकल प्रभावित होता है और इससे वैक्सिंग की प्रक्रिया और अधिक दर्दभरी हो जाती है. वैक्सिंग के लिए अपॉइंटमेंट लेने से पहले अपने बालों को एक चौथाई इंच तक बढ़ जाने दें.

प्रोफ़ेशनल से करवाएं वैक्सिंग
 

प्रोफ़ेशनल से करवाएं वैक्सिंग

वैक्सिंग देखने में बड़ा आसान काम लगता है. शरीर पर वैक्स लगाओ, उस पर स्ट्रिप रख कर दबाओ और बालों की ग्रोथ के विपरीत दिशा में खींचते हुए स्ट्रिप को निकाल लो. पर यहां आप एक बात भूल रही हैं कि हमारे बाल एक ही दिशा में नहीं बढ़ते हैं और अच्छे नतीजे पाने के लिए वैक्स का तापमान यानी टेम्प्रेचर भी सही होना चाहिए. अत: हम सलाह देंगे कि आप वैक्सिंग का काम किसी प्रोफ़ेशनल से लैक्मे सलून में जा कर ही करवाएं, ताकि आपके शरीर पर जलने, लाल रंग के चकत्ते व वैक्सिंग ठीक से न करने से जुड़े दूसरे निशान न आने पाएं.

स्नान करें
 

स्नान करें

वैक्सिंग कराने से पहले गर्म पानी से स्नान करें. इससे आपकी त्वचा के रोमछिद्र यानी पोर्स खुल जाएंगे और नर्म हो जाएंगे, जिससे बालों को निकालने की प्रक्रिया में दर्द कम होगा. याद रखें कि भले ही आप हमेशा ठंडे पानी से स्नान करना पसंद करती हों, लेकिन वैक्सिंग से पहले गर्म पानी से ही स्नान करें, क्योंकि ठंडा पानी आपके पोर्स को खोलने की बजाय उन्हें सिकोड़ देगा, जिससे वैक्सिंग के दौरान ज़्यादा दर्द होगा.

अपनी मेंस्ट्रुअल साइकल का ध्यान रखें
 

अपनी मेंस्ट्रुअल साइकल का ध्यान रखें

वैक्सिंग के लिए अपॉइंटमेंट लेने से पहले अपने पीरियड्स की तारीख़ों पर ध्यान दें. जब पीरियड्स पास हों या चल रहे हों, तब वैक्सिंग कराने से बचें, क्योंकि इस समय आपका शरीर दर्द के लिए बहुत संवेदनशील होता है. अपने पीरियड्स के ख़त्म होने के कुछ दिन बाद वैक्सिंग कराने आपको वैक्सिंग के दौरान कम दर्द होगा.