इसमें कोई दो राय नहीं कि सनस्क्रीन रोज़ लगाना चाहिए और हर कुछ घंटों के अंतराल में लगाते रहना चाहिए। ब्यूटी एक्सपर्ट हो या सेलिब्रिटी, उनकी पहली सलाह यही होगी कि साल भर सनस्क्रीन लगाएं, फिर मौसम चाहे जो हो। वैसे बहुत कम लड़कियां हैं, जो इसे फॉलो करती हैं। कुछ रोज़ाना इसे नहीं लगातीं, कुछ फ़ेस पर लगाती हैं और कुछ एरिया को पूरी तरह अवॉइड कर देती हैं, जैसे- गर्दन, कान और आंख।

आंखों के आस-पास की स्किन बहुत डेलिकेट होती है और उम्र बढ़ने के संकेत सबसे पहले यहीं से नज़र आते हैं। इसलिए आपको इसे हाइड्रेट करने की और ख़याल रखने की सबसे ज़्यादा ज़रूरत है। आई क्रीम कैसे लगाएं ये तो आप जानती होंगी, लेकिन क्या आप जानती हैं कि सनस्क्रीन आपकी आंखों के आस-पास कैसे लगाया जाय, ताकि आपके आंखें रहें सुरक्षित? नहीं न... चलिये, हम बताते हैं।

 

सही फॉर्मूला चुनें

सही फॉर्मूला चुनें

ज़्यादातर सनस्क्रीन ऐसे होते हैं, जिन्हें आप आंखों के आस-पास लगा सकते हैं और ये आंखों को नुकसान नहीं पहुंचाते हैं, जब तक कि ये आंखों में न जाये। मिनरल सनस्क्रीन्स जिसमें ज़िंक या टाइटेनियम डाई ऑक्साइड हो, सुरक्षित माने जाते हैं। ये सेंसिटिव स्किन और आंखों के आस-पास के एरिया के लिए सुरक्षित माने गए हैं। आप चाहें तो आई क्रीम खरीद सकते हैं, जिसमें एसपीएफ प्रोटेक्शन हो, जैसे - Dermalogica Total Eye Care with SPF 15.

 

ईज़ी एप्लिकेशन

ईज़ी एप्लिकेशन

ऐसा प्रोडक्ट चुनें, जिसे लगाना आसान हो। इसके लिए आप ऐसा सनस्क्रीन या आई प्रोडक्ट चुनें, जिसमें एसपीएफ हो, क्योंकि इसे लगाना आसान होता है। यह सनस्क्रीन को आपकी आंखों के अंदर जाने से ही बचाएगा। वैसे यह बिल्कुल नुकसानदायक नहीं है। यदि यह गलती से आपकी आंखों में चला भी जाता है तो आप आंखों पर ठंडे पानी के छीटें मारकर इसे धो लें।

 

रिंग फिंगर से अप्लाय करें

रिंग फिंगर से अप्लाय करें

जैसा कि हमने पहले भी आपको बताया है कि आई एरिया बहुत नाज़ुक होता है, यहां रगड़ने से फाइन लाइंस और झुर्रियां जल्द आ जाती है और समय से पूर्व बुढ़ापा झलकने लगता है। इसलिए सनस्क्रीन आई एरिया पर लगाना हो तो रिंग फिंगर का इस्तेमाल करें और इसे हल्के हाथों से लगाएं।