अपनी स्किन का ख़याल रखना आसान नहीं होता है। उस पर खासतौर से बात जब औरों को नए स्किन केयर प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल करने की राय देने की बात आती है, तो यह एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी होती है। यही कारण है कि इसलिए ऐसे मामले में हम ऐसे ब्यूटी ब्लोगर्स की बात सुनते हैं, जो सही तरीके से जांच परख करके प्रॉडक्ट्स का रिव्यू देती हैं और बाजार में जो भी स्किन केयर प्रोडक्ट्स मौजूद हैं, उनमें से आपकी स्किन के लिए क्या सही रहेंगे, सोच-समझ कर उस पर राय देती हैं। इसलिए हमने ब्यूटी रिव्यु ब्लॉग लिपस्टिक फॉर लंच, मृणालनी सचन से बात की, जिन्होंने स्किन केयर के बारे में काफी गहराई और गंभीरता से हमें बहुत कुछ बताया, खासतौर से ऑयली और एक्ने प्रोन स्किन टाइप्स के बारे में बताया है। मृणालिनी ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है, लेकिन ब्यूटी ब्लॉग लिखना उनका पैशन है। मृणालिनी ने अपने एक्सपीरियंस के आधार पर स्किनकेयर और मेकअप प्रोडक्ट्स के बारे में रिव्यु किया है और बेहद सिम्पल और बजट में आने वाले स्किन केयर प्रोडक्ट्स, जिन्हें एक्ने प्रोन स्किन के लिए इस्तेमाल करना है, इसके बारे में बताया है। पेश है इनसे हुई बातचीत के मुख्य अंश, इनसे बातचीत के आधार पर आप अपनी स्किन का ख़याल रख सकती हैं।

एक्सपर्ट मृणालिनी से जानें कि कैसे रखें एक्ने प्रोन स्किन का ख़याल

बीबी: एक ब्यूटी ब्लॉगर के रूप में, आपके लिए स्किनकेयर का क्या मतलब है?

मृणालिनी: स्किनकेयर मेरे लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है और यह मेरे लिए किसी थेरेपी से कम नहीं है।  मेरा मानना है कि यह न केवल साफ स्किन को पाने का एक तरीका है, बल्कि यह आपको रिलैक्स भी करता है। मैं अपनी मॉर्निंग और इवनिंग की स्किन केयर रूटीन को फॉलो करने के लिए पूरी तरह से तैयार रहती हूँ, क्योंकि यह मुझे फिर से तरोताजा करता है और मेरी स्किन को प्री मैच्योर होने से, एजिंग और इन्फ्लेमेशन से बचाता है।

बी बी: आपके विचार से ऑयली, एक्ने प्रोन से जूझ रहे लोग अपने स्किनकेयर प्रोडक्ट्स को चुनते समय कौन सी सबसे बड़ी गलतियाँ करते हैं?

मृणालिनी: मुझे लगता है कि ऑयली स्किन वाले लोग सबसे बड़ी गलती करते हैं कि वे हार्ड क्लींजर का उपयोग करते हैं और अपनी रूटीन  में मॉइस्चराइजिंग प्रोडक्ट्स को शामिल नहीं करते हैं। वे यह भी नहीं समझते हैं कि कठोर क्लींजर्स स्किन के नेचुरल ऑयल्स को स्किन से निकाल देते हैं , जिससे अतिरिक्त सीबम का  उत्पादन होता है, जिसकी वजह से स्किन अधिक ऑयली और ग्रीसी हो जाती है । इसी तरह, मॉइस्चराइज़र का उपयोग न करने से अधिक सीबम उत्पादन को बढ़ावा मिलता है, जिसकी वजह से स्किन ऑयली और चिकनी नजर आती है।


बी बी: अपने स्किनकेयर प्रोडक्ट्स चुनते हुए आप अपने प्रोडक्ट्स में किन तत्वों की तलाश करती  हैं ?

मृणालिनी: मैं ऐसे तत्वों की तलाश करती हूं, जो ऑयल प्रोडक्शन को कंट्रोल करने और दाग-धब्बों को कम करने में मदद करते हैं । मेरे कुछ पसंदीदा तत्व हैं,  विटामिन सी, नियासिनमाइड, बीएचए और एज़ेलिक एसिड हैं। ये ऑयली और एक्ने प्रोन स्किन के लिए अच्छे होते हैं । मैं अपने मॉइस्चराइजर में सेरामाइड्स और पेप्टाइड्स की भी तलाश करती हूं,  क्योंकि ये एंटी-एजिंग तत्व हैं, और मैं 30 की हूँ, इसलिए यह मेरी स्किन के लिए काफी फायदेमंद होती हैं।

 

एक्सपर्ट मृणालिनी से जानें कि कैसे रखें एक्ने प्रोन स्किन का ख़याल


बीबी : आपके लिए स्किन केयर रूटीन किस तरह का होता है?

मृणालिनी : सुबह के समय, विटामिन सी और सनस्क्रीन मेरे लिए अनिवार्य है। मैं विटामिन सी सीरम का इस्तेमाल अपने चेहरे को किसी जेंटल फेस वॉश से धोने के बाद जरूर करती हूँ।  इसके बाद मैं एक लाइटवेट मॉइस्चराइजर, किसी सनस्क्रीन जिसमें एसपीएफ 50 हो, उसे अपनी स्किन पर लगाती हूँ।  मैं वही फेश वाश और मॉइस्चराइजर रात को भी लगाती हूं, लेकिन विटामिन सी सीरम को मैं अज़ेलैक एसिड या बीएचए बेस्ड सीरम के साथ बदल लेती हूँ। इससे मेरी स्किन अच्छी हो जाती है, इसके बाद सीरम लगाने से पहले एक क्ले मास्क का इस्तेमाल करती हूं।

  बीबी : जब बात आपकी स्किन केयर की आती है, तो किन बातों का खास खयाल रखती हैं?

मृणालिनी : बिल्कुल , आपको अपनी स्किन के साथ कुछ जरूरी बातों का ख़याल रखना बेहद जरूरी है। जैसे हमेशा नए प्रोडक्ट्स को धीरे-धीरे इस्तेमाल करें।

- जैसे मॉइस्चराइजिंग के साथ जेंटल तत्वों को मिलाएं, जिसमें एक्टिव्ज़ भी हों।
- स्किन केयर रूटीन को लगातार और नियमित रूप से फॉलो  करें
- अपनी स्किन को ओवर एक्सफोलिएट न करें, इससे आपकी स्किन को काफी नुकसान पहुंचता है।
- सनस्क्रीन या मॉइस्चराइजर लगाना कभी न भूलें।
- कई नए प्रोडक्ट्स अचानक से एक साथ इस्तेमाल न करें, यह आपकी स्किन के लिए हानिकारक हो सकते हैं।

बीबी : जिसकी एक्ने प्रोन स्किन है या ऑयली स्किन है, उनके लिए कुछ अच्छी स्किन केयर रूटीन बताएं ?

मृणालिनी : ऑयली स्किन के लिए स्किन केयर रूटीन फॉलो करने के लिए जरूरी है कि आप बेसिक क्लींजिंग और मॉइस्चराइजिंग प्रोडक्ट्स, सनस्क्रीन के साथ लगाना शुरू करें, खासतौर से सुबह के वक़्त।  साथ ही ऐसे एक्टिव्स का इस्तेमाल करें, जो कि एक्ने और दाग-धब्बों को कम करे।  बीएचए, निआसिनामाइड और अज़ेलैक एसिड एक साथ मिलकर स्किन के लिए कमाल का काम करते हैं, इसलिए ऐसे सीरम्स और मॉइस्चराइजर जिसमें ये तत्व हों, उनकी तलाश करें।  साथ ही हफ्ते में एक बार क्ले मास्क लगाएं, यह पोर्स को खोलता है। हैवी मॉइस्चराइजर या ऑयल्स न लगाएं तो अच्छा है, क्योंकि यह पोर्स को बंद करते हैं। हमेशा लाइटवेट मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल करें।

बीबी : आप एक्ने प्रोन और ऑयली स्किन वाले लोगों को क्या टिप्स देना चाहेंगी?

मृणालिनी : सही स्किन केयर प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल के अलावा, यह भी जानने की कोशिश करें कि एक्ने होने का मुख्य कारण या उसकी जड़ क्या है, क्योंकि हो सकता है कि हार्मोनल इम्बैलेंस या डायट से जुड़ी परेशानी हो।  हमेशा अपनी डर्मेटोलॉजिस्ट से बात करें, फिर चाहे आपका एक्ने बहुत गंभीर हो या फिर आप उसका कारण पता नहीं लगा पा रहे हों।  साथ ही धैर्य रखना भी बेहद जरूरीहै। हमेशा अपने स्किन केयर रूटीन को नियमित रूप से फॉलो करें, क्योंकि एक्ने और दाग-धब्बे ठीक होने में काफी समय लेते हैं।  सही स्किन केयर रूटीन से आप कुछ ही महीनों में अपनी स्किन की ठीक कर सकती हैं। आप अपनी स्किन से प्यार करेंगे तो आपकी स्किन भी आपसे प्यार करेगी।  
-