क्या आप जानते हैं कि स्किन केयर का पहला रूल क्या है? नहीं? तो चलो हम बताते हैं। सबसे पहली और महत्वपूर्ण बात ये कि कभी भी गंदे और पसीने भरे हाथ से चेहरे को न छूएं। यह उतना ही ज़रूरी है, जितना कि रात को सोने से पहले मेकअप उतारना, खासतौर पर ऑयली और एक्ने प्रोन स्किन वालों के लिए।

यदि आप एक्ने मिटाने के लिए हर तरह का उपाय कर चुके हैं और इसके बावजूद आपको इससे छुटकारा नहीं मिल रहा है तो हो सकता है कि इसका कारण है कि आप बार-बार अपने हाथों से लगातार अपने फ़ेस को छूते हैं। हम जानते हैं कि जब आपके फ़ेस पर पिम्पल हो जाता है तो ऐसे में ज़ाहिर है कि फ़ेस पर हाथ जाता ही है। हमारी कोशिश होती है कि हम उसे उंगलियों से दबाकर ठीक कर सकें। लेकिन इससे एक्ने ठीक होने की बजाय खराब ही होगा। आपको ज़रूरत है इस आदत से छुटकारा पाने की।

 

क्या होता है फ़ेस को छूने से?

क्या होता है फ़ेस को छूने से?

जब आप घर से बाहर होते हैं, तो आपके हाथों पर दुनियाभर की गंदगी होती है- तेल, पसीना, चिचिपाहट और न जाने क्या-क्या। इस तरह के हाथों से जब आप अपने चेहरे को छूते हैं तो इनके जरिये बैक्टीरिया, एलर्जी आपकी स्किन में चले जाते हैं, जिससे आपकी स्किन पर एक्ने हो सकते हैं। इसके अलावा इससे पिंपल्स से होने वाली तकलीफ भी और बढ़ जाती है, जो आप कतई नहीं चाहेंगे।

 

ऐसा करने से कैसे बचें?

ऐसा करने से कैसे बचें?

जब भी आप अपने हाथ फ़ेस को छूने के लिए आगे बढ़ाएं, आप ये सोच लें कि यदि स्किन पर पिम्पल हो गए, तो आपको कितना खराब लगेगा। आप सोचें कि इन हाथों के जरिये आपके फ़ेस पर जर्म्स और बैक्टीरिया पहुंच सकते है। हमेशा अपने हाथों में एक ब्लोटिंग पेपर और फ़ेस वाइप्स रखें और जब भी ज़रूरत महसूस हो, इससे अपने फ़ेस को पोंछ लें। यदि आपको लगता है कि फ़ेस को छूना ज़रूरी है, क्योंकि आपको मेकअप ठीक करना है, तो आप अपने पास एक सैनिटाइज़र रखें और फ़ेस को छूने से पहले हाथ को सैनिटाइज़ ज़रूर करें। इससे स्किन पर जमा बैक्टीरिया मर जाएंगे और आपकी स्किन भी ठीक रहेगी।