आजकल शीट मास्क लगाने का चलन बढ़ गया है। यह चेहरे पर जादुई असर करता है, शायद इसीलिए लोग इसे पसंद करने लगे हैं। यह स्किन के लिए बहुत फायदेमंद है। यह अतिरिक्त सीबम के निर्माण को नियंत्रण में रखता है, पोर्स को क्लीयर करता है, धूल व गंदगी हटाता है और एक्ने से बचाव करता है।

लेकिन यह भी सही है की शीट मास्क्स को लेकर लोगों के मन में कई तरह के सवाल उठते हैं। जब बात स्किन की आती है, तो हर सवाल वाजिब है। इसलिए हम यहां शीट मास्क से संबन्धित कुछ सवालों का जवाब दे रहे हैं, जिन्हें आपके लिए जानना है ज़रूरी।

जानें शीट मास्क के बारे में

1)     शीट मास्क रेग्युलर मास्क से किस तरह अलग है?


 शीट मास्क ऐसे फैब्रिक्स जिसमें सोखने की क्षमता ज़्यादा हो, उससे या हायड्रोलाइज्ड जेल्स को फ़ेस के आकार में काट के बनाया जाता है। इसके बाद उसे सीरम्स और एसेंस में भिगोया जाता है। ये रेग्युलर मास्क से बहुत अलग है, क्योंकि ये ऐसे नहीं है, जिन्हें लगाने के बाद धोया जाता है। ये हायड्रेटिंग होते हैं। ये ऐक्टिव इंग्रेडिएंट्स से बने होते हैं, जो खास स्किन संबंधी समस्याओं को लेकर ही बना होता है।  


2) शीट मास्क को कितनी बार लगाया जा सकता है?


शीट मास्क को कितनी बार लगाना है, यह आप पर निर्भर करता है, क्योंकि हर स्किन की ज़रूरत अलग होती है। जैसे अगर आपकी स्किन ज़्यादा ड्राय है तो आप रोजाना हायड्रेटिंग मास्क लगा सकते हैं, वहीं ऑयली स्किन वाले एक दिन के अंतर में लगा सकते हैं। यदि इसमें ग्लाइकोलिक एसिड है, तो आप हफ्ते में तीन बार लगा सकते हैं।

 

जानें शीट मास्क के बारे में

03. अपनी स्किन टाइप के अनुसार मैं शीट मास्क कैसे चुनूँ?


शीट मास्क खरीदते समय आपको जो बात ध्यान रखनी है, वो है इसके इंग्रेडिएंट्स। हम आपको यहां बता रहे हैं कुछ इंग्रेडिएंट्स के बारे में, जो आपको अपनी स्किन टाइप को ध्यान में रखते हुए चुनना चाहिए:   
ड्राय, डिहाइड्रेटिंग स्किन- हयालूरोनिक एसिड, हनी, एलो वेरा। स्नेल म्यूसिन, ग्लिसरीन और सेरामाइड्स
ऑयली स्किन — विच हेज़ल, लेक्टिक एसिड, काओलिन, ग्रीन टी, चारकोल और नियासिनामाइड.
एक्ने-प्रोन स्किन- सेंटेला एशियाटिका, प्रोपोलिस, टी ट्री, सैलिसिलिक एसिड और कोलोइडल ओट्स।  

 

जानें शीट मास्क के बारे में

04.  स्किन केयर रूटीन में शीट मास्क कब लगाना चाहिए?


स्किन केयर रूटीन में क्लींजिंग और टोनिंग के बाद शीट मास्क लगाना चाहिए। इस तरह इसमें मौजूद ऐक्टिव इंग्रेडिएंट्स स्किन में अच्छी तरह पेनीट्रेट करते हैं। टोनर के बाद फ़ैब्रिक मास्क लगाना चाहिए, वहीं हायड्रोलाइज्ड जेल शीट मास्क को सीरम या एसेंस के बाद और मॉइश्चराइजर से पहले लगाना चाहिए।  


05. शीट मास्क को कितनी देर तक लगाकर रखना चाहिए?


शीट मास्क को कम-से-कम 20 मिनट और ज़्यादा-से-ज़्यादा 30-45 मिनट तक रखा जाना चाहिए। इससे पहले यदि आप शीट मास्क हटा लेते हैं, तो आपका फ़ेस सिर्फ गीला होगा और सीरम को  स्किन के अंदर तक जाने का समय नहीं मिल पाएगा। शीट मास्क को फ़ेस पर सूखने तक का इंतज़ार न करें, वरना इसका खराब असर हो सकता है और जो सीरम आपके फ़ेस पर लगा था, मास्क उसे एब्ज़ोर्ब करने लगेगा।