रेटिनॉल को एक क्रांतिकारी प्रोडक्ट कहा जाए तो ग़लत नहीं. यह एक्सफोलिएट करता है, मुंहासों को ट्रीट करता है और आपकी त्वचा को एंटी-एजिंग फायदे भी देता है. लेकिन इस ऑल स्टार इंग्रेडिएंट को अपने दावों पर खरा उतरने के लिए खुद को साबित भी तो करना होगा. लेकिन हमने रेटिनॉल सीरम का उपयोग करते समय आपको जिन पांच बातों का ध्यान रखना चाहिए, उसकी लिस्ट बनाई है.

लेकिन आगे बढ़ने से पहले हम आपको अपने पसंदीदा रेटिनॉल-इन्फ्यूज्ड सीरम Pond's Age Miracle Double Action Serum से परिचित कराते हैं. विटामिन बी3 और रेटिनॉल-सी तकनीक से लैस यह फ़ॉर्मूला झुर्रियों और लाइंस को कम करता है, आपकी त्वचा की रंगत को एक समान करता है और रूखेपन को दूर करता है. बस इसे थोड़ी सी मात्रा में लेकर अपनी त्वचा में थोड़ी मालिश करें, और हो गया. 

 

 

अन्य एक्टिव एजेंट्स के साथ मिक्स न करें

अन्य एक्टिव एजेंट्स के साथ मिक्स न करें

ऐसे बहुत से सक्रिय तत्व हैं, जो एक साथ मिल जाने पर, एक-दूसरे की शक्ति को बढ़ाते हैं और त्वचा को और भी ज़्यादा लाभ प्रदान करते हैं. लेकिन रेटिनॉल उनमें से एक नहीं है. इस विटामिन ए-डेरिवेटिव को एएचए, बीएचए, एक्सफोलिएंट्स या स्क्रब के साथ न मिलाएं. इससे रेटिनॉल के त्वचा में ज़्यादा समाने की संभावना बढ़ जाती है. ये भले ही सुनने में अच्छा लगे लेकिन इसके त्वचा में ज़्यादा समाने पर स्किन में जलन और रेडनेस की समस्या हो सकती है. रेटिनॉल बेहद पावरफुल है. लेकिन आप त्वचा को हाइड्रेट करने के लिए इसे थोड़े से मॉइश्चराइज़र के साथ मिला सकती हैं और साथ ही इर्रिटेशन के रिस्क को कम कर सकती हैं.

 

इसे रात में ज़रूर लगाएं

इसे रात में ज़रूर लगाएं

आपको रेटिनॉल को अपने नाइट स्किन केयर रूटीन में शामिल करना चाहिए. रेटिनॉल त्वचा को संवेदनशील बनाता हैऔर संवेदनशील त्वचा को सूरज की रोशनी के संपर्क में लाने पर पिग्मेंटेशन और इंफ़्लेमेशन की समस्या हो सकती है. यही कारण है कि अपने रात के स्किनकेयर रूटीन में Pond's Age Miracle Double Action Serum जैसे रेटिनॉल सीरम को शामिल करना बेहतरीन है और ये जादू की तरह काम करता है.

 

इसे गीली (नम) त्वचा पर न लगाएं

इसे गीली (नम) त्वचा पर न लगाएं

भले ही हल्की गीली त्वचा पर प्रोडक्ट्स को अप्लाई करने से वो स्किन में बेहतर ढंग से समाते है और इसीलिए इस प्रैक्टिस को बढ़ावा दिया जाता है, लेकिन रेटिनॉल पर ये रूल लागू नाहीं होता. रेटिनॉल का ज़्यादा गहराई तक स्किन में समाने से जलन और संवेदनशीलता को बढ़ावा दे सकता है. दूसरे, रेटिनॉल लगाने से पहले हमेशा अपने आंखों के नीचे के हिस्से पर आई क्रीम लगाएं. चूंकि यह हिस्सा नाजुक है, रेटिनॉल को आंख के पास अप्लाई करने से जलन हो सकती है. आपको बस एक मटर के आकार की मात्रा में इसे लेना है. गर्दन पर लगाकर शुरुआत करें और ऊपर की ओर बाहर व ऊपर की तरफ़ इसे लगाएं.

 

कम व हल्की मात्रा में शुरुआत करें

कम व हल्की मात्रा में शुरुआत करें

रेटिनॉल बेहद पावरफुल है, इसलिए शुरुआत में ही अगर इसे अधिक मात्रा में लगा लिया तो स्किन पर चकत्ते और ड्राईनेस की समस्या हो सकती है. फॉर्मूला को अपने रूटीन में शामिल करने से पहले आपको अपने त्वचा विशेषज्ञ से परामर्श ज़रूरलेना चाहिए. स्किन पर इसको टेस्ट करने के लिए 0.2% से 0.3% के कॉन्सेंट्रेशन से शुरू करें, और फिर धीरे-धारे समयके साथ इसकी पोटेन्सी बढ़ाते जाएं. आप इसे सप्ताह में दो बार इस्तेमाल कर सकती हैं और पता लगा सकती हैं किआपकी त्वचा इस पर ये कैसे रिएक्ट कर रहा है. एक बार जब आपकी स्किन को इसकी आदत हो जाती है, तो आप धीरे-धीरे कॉन्सेंट्रेशन बढ़ा सकती हैं.

 

फेशियल टूल्स यूज़ न करें

फेशियल टूल्स यूज़ न करें

फेशियल टूल्स से रेटिनॉल को स्किन में मसाज न करने के पीछे भी ठीक वही वजह है जो इसे गीली स्किन पर यूज़ न करने के पीछे है. अगर रेटिनॉल आपकी त्वचा में बहुत गहराई तक प्रवेश करता है, तो वो रिएक्शन को बढ़ावा दे सकता है. इसेअपनी उंगलियों की सहायता से हल्के से स्किन में मसाज करें.