रेटिनॉल बढ़ती उम्र के निशान रोकने का एक बेहद असरदार इन्ग्रीडिएंट है और इसके बारे में या तो आपने कहीं पढ़ा होगा या फिर किसी डर्मैटोलॉजिस्ट से सुना होगा. परिपक्व त्वचा के लिए बने किसी भी स्किनकेयर प्रोडक्ट को उठाइए और उसके इन्ग्रीडिएंट्स की सूची देखिए. उसमें आपको रेटिनॉल ज़रूर मिलेगा. लेकिन क्या आपको पता है कि वास्तव में ये है क्या, आपके स्किनकेयर रूटीन में इसकी ज़रूरत क्यों है और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाना चाहिए?

चूंकि किसी इन्ग्रीडिएंट के बारे में सब बात कर रहे हैं, केवल इसीलिए उसे अपने स्किनकेयर रूटीन में तो शामिल नहीं किया जा सकता. आपको हमेशा अपने स्किनकेयर प्रोडक्ट्स में मौजूद इन्ग्रीडिएंट्स के बारे में मालूमात होने चाहिए, जिससे आपको वह नतीजे मिल सकें, जो आप चाहती हैं. इसीलिए आज हम आपको रेटिनॉल के बारे में वो सभी बातें बताने जा रहे हैं, जो आपको मालूम होनी ही चाहिए. क्या आप तैयार हैं?

 

रेटिनॉल क्या है?

रेटिनॉल क्या है?

रेटिनॉल, रेटिनॉइड का एक प्रकार है, जो विटामिन A में पाया जाता है. अधिकतर स्किनकेयर प्रोडक्ट्स में इसकी मौजूदगी की वजह ये है कि इसके एक नहीं, बल्कि कई फ़ायदे हैं. यह सौम्यता से त्वचा को एक्स्फ़ॉलिएट करता है, जिससे त्वचा की क्षतिगस्त कोशिकाएं हट जाती हैं, यह कोलैजन के उत्पादन को बढ़ाता है, फ्री रैडिकल्स और त्वचा के बंद रोमछिद्रों को दूर करता है, जिससे ब्लैकहेड्स और मुहांसे नहीं होते हैं. इस इन्ग्रीडिएंट को त्वचा की देखभाल में शामिल करने की सही उम्र हर युवती और उसकी त्वचा के हिसाब से अलग अलग होती है. वहीं स्किन एक्स्पर्ट्स की मानें तो रेटिनॉल के इस्तेमाल की शुरुआत करने की सही उम्र है 25 बरस.

 

क्या यह हर तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त होता है?

क्या यह हर तरह की त्वचा के लिए उपयुक्त होता है?

रेटिनॉल वाले प्रोडक्ट्स इसके कम से कम .01% कॉन्संट्रेशन के साथ भी उपलब्ध हैं और तब भी बहुत प्रभावी और मनचाहे नतीजे देने वाले होते हैं. संवेदनशील यानी सेंसिटिव त्वचा वाली युवतियां या फिर ऐसी युवतियां, जिन्हें त्वचा से जुड़ी ज़्यादा समस्याएं नहीं हैं, उन्हें इसके ज़्यादा कॉन्संट्रेशन वाले प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल की ज़रूरत नहीं होती. त्वचा की सहन शक्ति के अनुसार इसे लगाने के तरीके भी अलग अलग होते हैं और इस बात की सलाह दी जाती है कि शुरुआत रेटिनॉल के सबसे कम कॉन्संट्रेशन वाले प्रोडक्ट से ही करनी चाहिए.

सेंसिटिव त्वचा के लिए रेटिनॉल के सबसे कम कॉन्संट्रेशन वाले यानी .01% वाले प्रोडक्ट से ही शुरुआत की जानी चाहिए. सामान्य से मिलीजुली यानी कॉम्बिनेशन स्किन वाली युवतियां थोड़े ज़्यादा कॉन्संट्रेशन वाले लगभग 0.04% प्रोडक्ट्स को सप्ताह में दो से तीन बार इस्तेमाल कर सकती हैं.

सेंसिटिव त्वचा के लिए रेटिनॉल के सबसे कम कॉन्संट्रेशन वाले यानी .01% वाले प्रोडक्ट से ही शुरुआत की जानी चाहिए. सामान्य से मिलीजुली यानी कॉम्बिनेशन स्किन वाली युवतियां थोड़े ज़्यादा कॉन्संट्रेशन वाले लगभग 0.04% प्रोडक्ट्स को सप्ताह में दो से तीन बार इस्तेमाल कर सकती हैं.

ऑइली त्वचा वाली या फिर त्वचा की बड़ी समस्याओं से जूझ रही युवतियां 0.5 से 1% रेटिनॉल कॉन्संट्रेशन वाले प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल कर गहरी झुर्रियों, बड़े रोमछिद्रों और ब्लैकहेड्स से निजात पा सकती हैं. यदि आपकी त्वचा लाल हो जाती है या फिर इसमें जलन महसूस होती है तो इसके इस्तेमाल की बारम्बारता यानी फ्रीक्वेंसी कम कर दे और अपने लिए सही संतुलन बनाने की कोशिश करें.

 

रेटिनॉल का इस्तेमाल कैसे किया जाना चाहिए?

रेटिनॉल का इस्तेमाल कैसे किया जाना चाहिए?

  • केवल मटर के दाने के बराबर मात्रा लें, जिससे यह आपके पूरे चेहरे पर लग सके. आप ऐसे प्रोडक्ट का चुनाव करें, जिसमें रेटिनॉल 0.05% हो और इसका इस्तेमाल एक दिन छोड़ कर यानी हर दूसरे दिन करें.
  • मॉइस्चराइज़र उसी तरह लगाएं, जैसे कि रूखी त्वचा, जलन और लालिमा से बचने के लिए आप हमेशा से लगाती रही हैं. इससे आप रेटिनॉल के इस्तेमाल से हो सकने वाली जलन और लालिमा वगैरह से बच सकेंगी.
  •  
  • रेटिनॉल वाले प्रोडक्ट के इस्तेमाल से आपकी त्वचा संवेदनशील बन सकती है अत: सनस्क्रीन लगाना कभी न भूलें.
  •  
  • रेटिनॉल युक्त प्रोडक्ट्स हमेशा रात के समय लगाए, क्योंकि दिन में लगाने पर सूरज की किरणें इसके प्रभाव को कम कर सकती हैं.