अधिकतर मुहांसे चेहरे पर आते हैं और अपने आप ही कुछ दिनों में ठीक हो जाते हैं. लेकिन इनमें से कुछ, जो किसी फोड़े की तरह होते हैं वो दोबारा भी आ जाते हैं और उनकी संख्या अचानक बढ़ भी जाती है. यदि इस तरह के पिम्पल्स आपकी जॉलाइन या ठोड़ी पर आते रहते हैं तो चिंता न करें, क्योंकि केवल आप अकेली ही नहीं हैं, जो इस समस्या से जूझ रही हैं. ठोड़ी पर होने वाले पिम्पल्स अक्सर दर्दभरे होते हैं और जाने का नाम ही नहीं लेते हैं.

क्या आपको पता है कि ठोड़ी पर जो ब्रेकआउट्स होते हैं, वो अक्सर हॉर्मोन्स की वजह से होते हैं और उन्हें दवा की दुकानों पर आसानी से उपलब्ध मुहांसों की दवाओं से नहीं हटाया जा सकता. लेकिन आप उम्मीद का दामन थामे रखें, क्योंकि हम आपको जो सुझाव देने जा रहे हैं, वो आपकी ठोड़ी पर मौजूद पिम्पल्स को कुछ ही दिनों में ठीक करने में मदद करेंगे. तो आइए, इन सुझावों पर नज़र डालें...

 

इस हिस्से पर बर्फ़ लगाएं

इस हिस्से पर बर्फ़ लगाएं

ठोड़ी पर आने वाले मुहांसे बहुत दर्द करते हैं. इन पर बर्फ़ मलने से इनकी सूजन और लालिमा में कमी आएगी. अपनी त्वचा पर सीधे बर्फ़ लगाने से बचें. बर्फ़ को किसी कपड़े में लपेट कर लगाएं. इसे लगाते वक़्त बहुत ज़्यादा दबाव भी न बनाएं, नहीं तो पिम्पल और बढ़ सकता है.

 

टॉपिकल क्रीम्स काम आसान करेंगी

टॉपिकल क्रीम्स काम आसान करेंगी

डर्मैटोलॉजिस्ट्स ऐसे टॉपिकल ऑइन्टमेंट लगाने की सलाह देते हैं, जिनमें बेन्ज़ॉइल परॉक्साइड और रेटिनॉइड हो. इनके बैक्टीरिया को ख़त्म करने के, त्वचा के रोमछिद्रों (पोर्स) को साफ़ करने के और त्वचा में बनने वाले अतिरिक्त ऑइल को नियंत्रित करने के गुण पिम्पल्स को ठीक करने का काम करते हैं. इससे दर्द और सूजन में कमी आती है और पिम्पल्स जल्दी ठीक हो जाते हैं.

 

मेकअप का हर एक कण हटाना ज़रूरी है

मेकअप का हर एक कण हटाना ज़रूरी है

जब आप मुहांसों से संघर्ष कर रही हों तब आप बिल्कुल नहीं चाहेंगी कि किसी भी ग़लती से ये पिम्पल्स बढ़ जाएं. मेकअप चाहे मुहांसों को छुपाने में कितना ही बेहतरीन क्यों न हो, लेकिन अपने उद्देश्य को पूरा कर लेने के बाद यदि इसे अच्छी तरह नहीं हटाया जाए तो यह पिम्पल्स के बढ़ने का कारण बन सकता है. अत: जैसे ही घर पहुंचें ये सुनिश्चित करें कि मेकअप का एक एक कण आपके चेहरे से हट जाए. इसके लिए मेकअप रिमूवर का इस्तेमाल करें और इसके बाद अपने चेहरे को अच्छी तरह क्लेंज़ करना बिल्कुल न भूलें.

 

स्क्रब्स के इस्तेमाल से बचें

स्क्रब्स के इस्तेमाल से बचें

पोर्स को साफ़ करने के लिए और डेड स्किन सेल्स को हटाने के लिए चेहरे को एक्स्फ़ॉलिएट करना ज़रूरी है, ताकि आपकी त्वचा की नई पर्त उभर कर दिखाई दे. लेकिन यदि आपकी त्वचा पर के किसी हिस्से पर ऐक्टिव यानी सक्रिय मुहांसे हैं तो उस हिस्से को स्क्रब न करें, क्योंकि इससे मुहांसों की स्थित और ज़्यादा बिगड़ सकती है.

 

इन्हें छूने और फोड़ने से बचें

इन्हें छूने और फोड़ने से बचें

हमें पता है कि आपको मुहांसों को छूने और फोड़ने की बहुत इच्छा होगी और आपको लगेगा कि इससे ये जल्दी ठीक हो जाएंगे, लेकिन इससे स्थिति और बिगड़ जाएगी. चेहरे पर निशान आ सकते हैं और ज़्यादा पिम्पल्स भी हो सकते हैं. ऐसा करने की बजाय आप बर्फ़ लगाएं, टॉपिकल ऑइंटमेंट लगाएं और मुहांसों के ठीक होने का इंतज़ार करें.