स्किनकेयर का पहला नियम कहता है- कभी भी पिंपल को फोड़ें या दबाएं नहीं. फिर भी जब कभी एक नया (या ढेर सारे) मुहांसे हो जाते हैं तो हमारा मन सबसे पहले उसे फोड़ कर उससे छुटकारा पाने का ही करता है. जहां कुछ महिलाएं इस मामले में अपने ऊपर नियंत्रण रख लेती हैं, वहीं कुछ अन्य अपने हाथ इस पर से हटा ही नहीं पातीं और कुछ समझ आए इससे पहले ही- ‘पॉप’ की आवाज़ के साथ इसे फोड़ देती हैं.

यदि आप भी ऐसा करती हैं या गलती से आपसे ऐसा हो गया है तो जान लीजिए कि आप नुकसान पहुंचा चुकी हैं. तो अब आपको क्या करना चाहिए (अपनी सबसे प्यारी दोस्त को इस बारे में बता कर घंटेभर तक रो लेने के अलावा)? आपको इस नुकसान की भरपाई करने की ज़रूरत है और ये कैसे करना है, यही बात हम बताने जा रहे हैं.

 

बार बार पिंपल को छूने से बचें

बार बार पिंपल को छूने से बचें

यह जान लें कि फूटे हुए पिम्पल की पपड़ी को बार बार छूने से कोई मदद नहीं मिलने वाली. सच तो ये है कि इससे आपकी त्वचा को नुकसान ही पहुंचेगा और ऐसा करने से पिंपल्स की समस्या बढ़ भी सकती है. तुरंत ही इसे छूना बंद करें (और आईने के सामने खड़े हो कर इसे निहारना भी बंद करें)- इसे अपने हाल पर छोड़ दें.

 

उस हिस्से को सौम्यता से साफ़ करें

उस हिस्से को सौम्यता से साफ़ करें

यह सुनिश्चित करने के लिए कि फूटे हुए पिम्पल से निकले बैक्टीरियाज़ दूसरे पोर्स तक न पहुंच जाएं, बहुत ज़रूर है कि सौम्य क्लेंज़र का इस्तेमाल करते हुए आप इस हिस्से को अच्छी तरह साफ़ करें. इसके लिए कठोर केमिकल्स से रहित क्लेंज़र का इस्तेमाल करें, जैसे- सिंपल काइंड टू स्किन रिफ्रेशिंग फ़ेशिल वॉश/Simple Kind To Skin Refreshing Facial Wash, जो अच्छी तरह साफ़ भी करता है.

 

सूजन और जलन को कम करने के लिए बर्फ़ लगाएं

सूजन और जलन को कम करने के लिए बर्फ़ लगाएं

पिंपल के फूटने के बाद आप सबसे पहले जो चीज़ नोटिस करेंगी वो है सूजन, जलन और लालिमा. ऐसे में इस पर बर्फ़ लगाने से त्वचा को राहत मिलेगी और जलन व सूजन में कमी आएगी. पेपर टॉवेल या नर्म कपड़े में बर्फ़ को लपेटें और इसे प्रभावित हिस्से पर दिन में तीन-चार बार कुछ मिनटों तक रखें.

 

ऐक्ने ट्रीटमेंट का इस्तेमाल करें

ऐक्ने ट्रीटमेंट का इस्तेमाल करें

अपने डर्मैटोलॉजिस्ट द्वारा सुझाए गए ऐक्ने ट्रीटमेंट का इस्तेमाल करें. ऐक्ने ट्रीटमेंट्स में ऐंटी-बैक्टीरियल फ़ॉर्मूला होता है, जो फूटे हुए पिंपल को भरने में मदद करता है. डर्मैलॉजिका ओवरनाइट क्लीरिंग जेल/ Dermalogica Overnight Clearing Gel में सैलिसिलिक ऐसिड है, जो ऐक्ने ब्रेकआउट्स को रोकने में कारगर है, क्योंकि इसमें सीबम को नियंत्रित करने का गुण होता है.

 

सनस्क्रीन लगाएं

सनस्क्रीन लगाएं

फूटा हुआ पिंपल किसी खुले हुए घाव की तरह होता है और इसे ठीक करने के लिए आपको अतिरिक्त सावधानी बरतनी होगी. कम से कम 30 एसपीएफ़ वाला सनस्क्रीन, जैसे- पॉन्ड्स सन प्रोटेक्ट नॉन-ऑइली सनस्क्रीन एसपीएफ़ 30/Ponds Sun Protect Non-Oily Sunscreen SPF 30 लगाने से त्वचा पर दाग नहीं पड़ेंगे और त्वचा का रंग भी असमान नहीं होगा.