पिछले साल जब एक बड़े प्रकाशन के लिए बॉलिवुड दीवा सोनम कपूर आहुजा ने अपने स्किनकेयर और मेकअप के रूटीन का खुलासा किया था तो हमारे देश की लड़कियां ख़ुशी से फूली नहीं समाई थीं. इस इंटरव्यू की सबसे अच्छी बात ये थी कि वे अपनी त्वचा से जुड़ी कमियों को लेकर बहुत सहज और खुली हुई थीं.

इसमें एक मेकअप स्टेप तो इसी बात पर केंद्रित था कि चेहरे पर मौजूद पिग्मेंटेशन के निशान और भूरे रंगे के दाग धब्बों को कैसे कवर किया जाए. उन्होंने इस सच्चाई की ओर भी ध्यान दिलाया कि कई लड़कियों के पास इतनी तरह के मेकअप प्रोडक्ट्स भी नहीं होंगे कि वे दाग-धब्बों को कवर कर सकें, लेकिन ऐसा करने के लिए, उनके पास जो प्रोडक्ट्स मौजूद हैं उनका इस्तेमाल करते हुए ‘जुगाड़’ तो बैठाई ही जा सकती है.

इससे साबित हो गया कि हम आप भी अपने चेहरे पर मौजूद डार्क स्पॉट्स और पिग्मेंटेशन के गहरे निशानों को मेकअप की सहायता से छुपा सकते हैं. यहां हम बता रहे हैं कि ये कि कैसे किया जा सकता है...

 

अपने अंडरटोन को पहचानें

अपने अंडरटोन को पहचानें

मेकअप स्किल्स को बेहतर बनाने के लिए जो सबसे अच्छी चीज़ आप कर सकती हैं, वो है ऐसे मेकअप प्रोडक्ट्स ख़रीदना, जो आपकी त्वचा के अंडरटोन के लिए सही हों. अपनी त्वचा के अंडरटोन को पहचानने के लिए यह तरीका आज़माएं-अपनी बांहों यानी आर्म्स की नाड़ियों (वेन्स) पर नज़र डालें. यदि वो नीली नज़र आती हैं तो आपका अंडरटोन ‘कूल’ है. यदि आपकी नाड़ियां हरी नज़र आती हैं तो आपका अंडरटोन ‘वॉर्म’ है और यदि आपकी नाड़ियां हरे और नीले दोनों ही तरह की हैं तो आपका अंडरटोन ‘न्यूट्रल’ है. जब आप अपने अंडरटोन के अनुसार मेकअप प्रोडक्ट्स, जैसे- फ़ाउंडेशन और कंसीलर, खरीदती हैं तो इनका प्रभाव बेहतरीन दिखाई देता है.

 

ब्लरिंग फ़ॉर्मूला का इस्तेमाल करें

ब्लरिंग फ़ॉर्मूला का इस्तेमाल करें

अपने चेहरे को मेकअप के लिए सही तरीके से तैयार करने से मेकअप के लिए बढ़िया बेस तैयार हो जाता है. आपका प्राइमर ब्लरिंग फ़ॉर्मूला वाला हो, जो आपके चेहरे की ख़ामियों को हल्का यानी ब्लर कर देगा और आपको मैट फ़िनिश देगा.

बीब्यूटिफ़ुल की सलाह: लैक्मे ऐब्सलूट ब्लर पर्फ़ेक्ट मेकअप प्राइमर/Lakme Absolute Blur Perfect Makeup Primer

 

ऑरेंज करेक्टर का इस्तेमाल करें

ऑरेंज करेक्टर का इस्तेमाल करें

ये टिप तो हमने सीधे ही सोनम के ब्यूटी सेशन से उठा लिया है कि डार्क स्पॉट्स, डार्क सर्कल्स और पिग्मेंटेशन के गहरे निशानों को कवर करने के लिए नारंगी यानी ऑरेंज टोन के कलर करेक्टर का इस्तेमाल करना चाहिए. जब बात रोज़ाना के मेकअप की हो तो हम कलर करेक्शन के स्टेप से बच निकलते हैं, पर ऐसा नहीं करना चाहिए. और यह भी जान लीजिए कि उजली रंगत वालों के लिए पीची यानी हल्का गुलाबीपन लिए नारंगी रंग और गहरी रंगत वालों के लिए गहरी लालिमा लिए हुए नारंगी रंग के कलर करेक्टर का इस्तेमाल दाग-धब्बों को बहुत आसानी से छुपाने का काम करता है.

 

पाउडर से सेट करने के पहले फ़ाउंडेशन लगाएं

पाउडर से सेट करने के पहले फ़ाउंडेशन लगाएं

आंखों में थोड़ा अतिरिक्त आकर्षण पाने के लिए आप मस्कारा के कई कई कोट्स तो लगाती ही हैं, पर आपको बता दें कि यही ट्रिक फ़ाउंडेशन के साथ भी अच्छी तरह काम करती है. अपने मीडियम से फ़ुल कवरेज देने वाले फ़ाउंडेशन की एक से ज़्यादा पर्त लगा कर आप दाग धब्बों को हल्का कर सकती हैं. आख़िरी फ़िनिशिंग के लिए पाउडर लगाने से पहले फ़ाउंडेशन की इन पर्तों को अच्छी तरह सेट हो जाने दें.

बीब्यूटिफ़ुल की सलाह: लैक्मे 9 टू 5 प्राइमर + मैट पर्फ़ेक्ट कवर फ़ाउंडेशन/Lakme 9 To 5 Primer + Matte Perfect Cover Foundation

 

कंसीलर लगाने से पहले लूज़ पाउडर लगाएं

कंसीलर लगाने से पहले लूज़ पाउडर लगाएं

आपको ये तो पता होगा ही कि कंसीलर को फ़ाउंडेशन लगाने के बाद अप्लाइ किया जाता है. ऐसा इसलिए किया जाता है, ताकि आप कंसीलर को केवल उसी जगह लगाएं, जहां इसकी ज़रूरत है, ना कि आप इसे ब्यूटी ब्लेंडर या फ़ाउंडेशन ब्रश की सहायता से पूरे चेहरे पर ही लगा लें. पर यहां हम आपको स्पॉट करेक्टिंग के लिए एक टिप दे रहे हैं और वो ये है कि चेहरे पर जहां-जहां दाग धब्बे हैं और उन जगहों पर आप कंसीलर लगाने के बारे में सोच रही हैं, वहां कंसीलर लगाने से पहले थोड़ा ट्रांस्लूसेंट पाउडर लगा लें. ऐसा करने के बाद कंसीलर लगाने से दाग धब्बे बहुत अच्छी तरह छुप जाते हैं.

बीब्यूटिफ़ुल की सलाह: लैक्मे 9 टू 5 नैचुरल फ़िनिशिंग पाउडर - यूनिवर्सल शेड/Lakme 9 to 5 Naturale Finishing Powder - Universal Shade

फ़ोटो: इन्स्टाग्राम