काले, घने और खूबसूरत बाल भला किसे पसंद नहीं होते। लेकिन यह ख्वाब सबका कहाँ पूरा होता है। उम्र के किसी ना किसी मोड़ पर बालों के झड़ने की समस्या बालों की खूबसूरती को कहाँ टिकने देती है। सच कहें तो, बालों का झड़ना आजकल आम समस्या हो गई है, इससे काफी महिलाएं से काफी परेशान रहती हैं। कई लोगों में यह समस्या इस कदर बढ़ जाती है कि हेयर ट्रांसप्लांट के अलावा कोई चार नहीं होता। इसलिए यह ज़रूरी है कि समय रहते आप अपने बालों के झड़ने पर कंट्रोल कर लें।

 

बाल झड़ने के कारण क्या हैं?

बाल झड़ने के कारण क्या हैं?

सबसे पहले तो यही जानना ज़रूरी है कि बाल झड़ने के कारण क्या हैं?  तो इसके कई कारण होते हैं, असंतुलित आहार लेना, खराब लाइफस्टाइल, इसके अलावा हार्मोनल परेशानियों से भी बाल झड़ते हैं और बहुत ज्यादा दवाइयां खाने से भी बाल झड़ने की परेशानी होती है।  कई बार सर्जरी या फिर कोई इंफेक्शन इसका कारण बनता है या फिर किसी भी तरह का कोई हार्मोनल असंतुलन हो तब भी, बाल झड़ने लगते हैं। मेडिकल ट्रीटमेंट की वजह से भी काफी बाल झड़ने लगते हैं।  कई महिलाओं को पीसीओडी की समस्या होती है, उससे भी काफी ज्यादा बाल झड़ते हैं और कई लोगों को यह परेशानी जेनेटिक भी होती है। कई बार फंगल इफेक्शन, अत्यधिक केमिकल प्रोडक्ट्स के उपयोग से भी बाल काफी झड़ते हैं। ऐसे में यह जरूरी नहीं है कि  अपने बालों को ठीक करने के लिए, हमेशा महंगे  ट्रीटमेंट ही करें, घर पर भी इसकी अच्छी तरीके से ट्रीटमेंट की जा सकती है। अपनी लाइफस्टाइल को सुधारकर, नियमित योगासन  के साथ-साथ अच्छा आहार और घरेलू  नुस्खों को अपनाकर इसे ठीक किया जा सकता है।  जी हाँ,  घर के कई नुस्खे ऐसे होते हैं, कई ऐसी रिमेडीज होती हैं, जिससे बालों के झड़ने को कंट्रोल किया जा सकता है।  तो आइए इसके बारे में विस्तार से जाने।

 

मुल्तानी मिटटी

मुल्तानी मिटटी

मुल्तानी मिट्टी ना सिर्फ त्वचा, बल्कि बालों के लिए भी फ़ायदेमंद है। बालों के झड़ने की समस्या में, इससे अच्छा कुछ नहीं हो सकता है। इसके लिए दही में मुल्तानी मिट्टी डाल कर, पैक बना लें,  फिर बालों की जड़ों से सिरों तक लगाएं, आधे घंटे के बाद पानी से सिर धो लें, हफ्ते में एक बार ऐसा ज़रूर करें।

 

दालचीनी

दालचीनी

जब भी आपको बाल धोना हो तो शैंपू करने के बाद दालचीनी के पानी से अपने बालों को धो लें। इससे आपके बालों का झड़ना काफी हद तक रुकेगा। दालचीनी का हेयर मास्क तैयार करने के लिए दालचीनी में शहद, दही और एलोवेरा मिलाकर लगाएं और फिर 20-25 मिनट तक बालों में लगा रहने दें। फिर अच्छी तरह से बाल को धोलें।

 

बादाम का तेल

बादाम का तेल

बालों को झड़ने से रोकने में बादाम का तेल बहुत ही उपयोगी है। बादाम के तेल में थोड़ा सा कपूर डाल कर हल्का गर्म कर लें, फिर इससे हफ्ते में कम से कम दो बार मालिश करें, बालों की जड़ें मजबूत होंगी और बाल झड़ना रुकेगा।

 

लेमन टी

लेमन टी

बालों के लिए लेमन टी बहुत अच्छा होता है। इसलिए, जब भी बालों का कोई मास्क तैयार करें तो चाय की पत्तियों को थोड़ा पानी में उबाल कर उसको ठंडा करके मेंहदी में मिलाकर लगाने से बालों में रंगत आ जाती है। इसे नियमित रूप से लगाते रहने से बालों का झड़ना रुक जाता है। बालों के झड़ने की समस्या को कम करने के लिए, लेमन टी के साथ, अंडा मिला लें और स्कैल्प पर लगाएं। 

 

शतावरी

शतावरी

बालों को मजबूत करने के लिए और झड़ने से रोकने के लिए रोज़ाना अश्वगंधा और शतावरी का चूर्ण दूध में मिला कर पिएं । इसके एंटी ऑक्सीडेंट गुणों के कारण इसके लेप को अगर आंवला के साथ लगाया जाये और फिर बाल धोया जाए तो इससे बालों का झड़ना रुक जाता है। इसके अलावा अगर शतावरी के जड़ को पीस कर अगर दो बूँद नाक में डाला जाए, तो इससे बालों का झड़ना रुकता है और बाल घने, मज़बूत और टिकाऊ बन जाते हैं। शतावरी के पाउडर का लेप लगाने से कुछ हद तक डैंड्रफ भी कम होते हैं।

 

भृंगराज तेल

भृंगराज तेल

अब भृंगराज के बारे में सभी जानते हैं, यह बालों की सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है और आयुर्वेद में इसका उपयोग सदियों से चलता आ रहा है। यह एक गुणकारी औषधि है, जिससे बने तेल के उपयोग से बालों की जड़ें  मज़बूत होती हैं। भृंगराज तेल जड़ों में जाकर अच्छी तरह से एब्ज़ोर्ब हो जाता है और गहराई में जाकर बालों को पोषण देता है, जिससे स्कैल्प से जुड़ी परेशानियां खत्म होती है।

 

कलौंजी के तेल

कलौंजी के तेल

कलौंजी में एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं, जो बालों को झड़ने से बचाते हैं और उन्हें मजबूत करते हैं।  कलौंजी के तेल से रोज़ाना स्कैल्प पर मालिश करें। कलौंजी का हेयर मास्क भी फ़ायदेमंद है। इसके लिए कलौंजी को कुछ देर पानी में भिगोकर रखें, फिर पीसकर पेस्ट बना लें। अब इसमें प्याज का रस व अंडा मिला लें और बालों में लगाएं।

 

प्याज़ का मास्क

प्याज़ का मास्क

प्याज़ का रस बालों को ना सिर्फ झड़ने से रोकता है, बल्कि नए बालों को उगाने में भी मदद करता है। इससे बालों की चमक भी बढ़ती है। इसका मास्क बनाने के लिए प्याज़ को मिक्सर में अच्छे से पीस कर, उसका पेस्ट बना लें। फिर उसमें दही, नींबू, शहद, अंडा मिला कर बालों में लगाएं। आधा घंटा रखें। फिर बालों को अच्छी तरह से धो लें।

 

मेथीदाना

मेथीदाना

एक रात पहले मेथीदाना को पानी में अच्छी तरह से भीगा लेना है। दूसरे दिन उसको पीस कर बालों पर लगाने से फायदा होता है। आप चाहें तो इसे जैतून के तेल में मिलाकर भी स्कैल्प  पर लगा सकते हैं।

 

अनार के पत्ते

अनार के पत्ते

अनार के पत्ते को सरसो के तेल में मिला कर, पकाया जाये और जो तेल बचे, उसे अपने बालों पर लगाया जाए तो इससे भी बाल अच्छे होते हैं और झड़ना बंद हो जाते हैं।

 

नीम के पत्ते

नीम के पत्ते

नीम के पत्ते को, नारियल तेल या जैतून या ऑलिव आयल के तेल में हल्का गर्म करें, फिर इसे तेल से अपने सिर पर मालिश करें, इससे बालों का झड़ना खत्म होता है।

 

दही के हेयर मास्क

दही के हेयर मास्क

दही बहुगुणी है। इसका सेवन सेहत बनाता है। इसे त्वचा पर लगाने से वह उजली होती है और अगर बालों में लगा लिया जाए तो बालों की सेहत बन जाती है। दही में मौजूद लैक्टिक एसिड आपको डेड स्किन सेल्स से छुटकारा दिलाता है, बालों को मज़बूती प्रदान करता  है और बालों की ग्रोथ को बढ़ाता है. इसे कैसे लगाया जाए, आइए जानते हैं।

दही + मेथी + प्याज़ के रस का हेयर मास्क

4  टेबलस्पून दही, 3 टेबलस्पून प्याज़ का रस और 1 टीस्पून मेथी पाउडर को मिला लें. इस पेस्ट को बालों की जड़ों पर 20  से 30 मिनट तक लगा कर रखें और फिर शैम्पू से बाल धो लें. इससे डैंड्रफ से छुटकारा मिलता है.

दही + शहद हेयर मास्क

एक बाउल  में एक कप दही और  दो टीस्पून शहद मिला लें. इस मिश्रण को अपने बालों की जड़ों में लगाएं. और 20 मिनट तक लगा कर रखें. इसके बाद पानी से धो लें. दही और शहद बालों को मुलायम बनाते हैं. यह उन लोगों के लिए एक बेहतरीन  कंडीशनिंग मास्क है, जिन्हें बालों के झड़ने के साथ रूखेपन की भी समस्या है.

दही + करी पत्ता हेयर मास्क

आधा कप दही लें. मुट्ठीभर करी पत्ता को पीस लें और दही में मिला लें. अब इस मास्क को बालों की जड़ों से लेकर पूरे बालों  में ठीक तरह से लगा लें. 45  मिनट तक लगा कर रखें और फिर शैम्पू से धो लें. करी पत्तों में बीटा-केरोटीन होता है, जो बालों को झड़ने से बचाता है.